Cyber crime क्या है? Cyber crime से बचने के उपाय | Cybercrime कितने तरीके के होते है?

- Advertisement -

Cyber crime क्या है? Cyber crime से बचने के उपाय | Cybercrime कितने तरीके के होते है?

क्योंकि हम सभी को पता है के आज के time में सभी चीजें ऑनलाइन होती जा रही है जैसे mobile recharge, टीवी recharge, Bill payment, tickets etc की payment online ही करते है यह तो रही सिर्फ payment की बात इसके अलावा भी ऐसे कई हजारो चीजे आज के time में हम internet से करते है कई लोगों का पूरा का पूरा business internet पर ही बना रखा है जिससे हमारी life पहले की तुलना में बहुत ही आसान होती जा रही है पर वही दूसरी तरफ देखा जाय तो इससे हमारी हर चीजें online होने से जैसे हमारी important information (bank details, Identity details, credit card/debit card information etc) उन्हें किसी गलत सोच के इंसान के द्वारा चुराने का भी उतना ही खतरा है जिससे हमें काफी भारी मात्रा में नुकसान उठाना पड़ सकता है, यह कहना गलत बिल्कुल नहीं होगा की जो चीजें internet पर है वह पूरी तरह से safe है उन्हें कोई भी जानकार और Bad intention वाला person गलत तरह से use कर सकता है |

Cyber crime के बारे में internet को इस्तेमाल करने वाला हर इंसान थोड़ा बहुत तो जनता ही होगा पर आखिर यह cyber crime क्या है और cyber crime से कैसे बच सकते है? Cyber crime से बचने के उपाय क्या है? और cyber crime के types क्या होते है इनके बारे में बहुत कम जानते है या इसके बारे में सारी जानकारी नही जानते है |

आज कल  internet के time में जहां हर चीज हमें आसानी से मिल जाती है वही हमारी चीजों के चुराए जाने की भी परेशानी सामने आती है internet पर हमारी information को किसी दूसरे इंसान(hacker, criminal) के द्वारा इस्तेमाल करना एक तरह का cybercrime ही है तो आज के इस tutorial के हम जानेंगे की आखिर cyber crime क्या होता है? और cyber crime से होने वाली problem क्या है?

Cyber crime क्या है? (Cybercrime in Hindi)

cyber crime
cyber crime

Cyber crime एक criminal activity है जो internet पर किसी user या किसी computer system से कोई information या control पाने के लिए किया जाता है और हम ये भी कह सकते है की cybercrime एक इसी activity है जिसमे कोई hacker का group किसी specific computer system या किसी इंसान के information को पाकर उस information से पैसे कमाने का तरीका है |

Cybercriminal या तो अकेले काम करते है या फिर कोई group में और उनका अधिकतर मकसद पैसे कमाना या फिर important information निकलना होता है|

Internet पर पड़ी important information के safety के लिए owner कई security use करता है जिससे कोई उसकी information को न देख सके पर कुछ अच्छे technical skills वाले hacker किसी भी तरह की security को तोड़ सकते है पर normal hacker से बचने के हम security elements use कर सकते है|

तो हम कह सकते है की “cybercrime एक criminal activity है जो किसी computer system से information लेने और पैसे कमाने या computer system पर control पाने के लिए की जाती है | ” 

Internet पर हम कई तरह के cybercrime का सामना करना पड़ता है चलिए उन पर कुछ नजर डालते है |

Cyber crime के प्रकार क्या है? (cybercrime types in Hindi)

cyber crime
- Advertisement -

Internet पर होने वाले cyber crime बहुत तरह के हो सकते है जैसे stealing information, stealing personal detail (password, ID, bank detail etc.) जिनमे से कुछ specific types को आज हम देखेंगे

  • Email and internet fraud
  • Identity fraud
  • Theft of financial or card payment data
  • Crypto jacking
  • Theft and sale of corporate data
  • Cyber espionage
  • Control hacking
  • Ransomware attack

Email and internet fraud – आज के समय में internet का use जहा अच्छी कामों के लिए होता है वही इसका use करके बहुत से लोग किसी दूसरे इंसान की जरूरत की चीजें देखकर चुरा सकता है |

Email fraud आज के time का common cyber crime है इसमें cyber attackers या hacker किसी इंसान के email id को hack करके उसका email पर आने वाले important मेल को पढ़ सकता है और उन्हें modify भी कर सकता है |

Email id पर किसी दूसरे इंसान का command होना एक बहुत बड़ी internet problem है यह एक बहुत बड़ा crime है |

Identity fraud– cyber crime काफी हद्द तक तभी हो सकता है जब किसी unauthorized इंसान को किसी authorized computer system के सेक्शन को access करने की authority मिल जय और यह तभी हो सकता है जब hacker किसी authorized person की identity को चुरा ले |

हर computer system में owner अपनी personal और professional information को safe रखने के लिए सेक्शन बनता है ताकि कोई भी अनजान इंसान उसकी information को देख न सके पर कोई technical skilled hacker identity  को चुरा के computer system की कोई भी information को access कर सकता है|

Theft of financial or card payment data– जैसे की हमे पता है की आज के time में सभी तरह का payment ऑनलाइन होता जा रहा है लोग अपने time को बचाने के ऑनलाइन payment का use करते है ताकि कम समय में उनका काम हो जाए और उन्हें मेहनत भी न करनी पड़े|

जैसे की हम जानते है की internet का use करके कोई भी चीज पूरी तरह से safe नही हो सकती है use तरह online payment भी पूरी तरह से safe नही होता कोई भी hacker हमारी financial detail जैसे हमारा bank account no., bank detail, card no. आदि चीजों को देख सकता है और उसका use करके हमारे पैसों को चुरा भी सकता है |

Online payment एक अच्छा तरीका है अपने time को बचने का पर हमे ऑनलाइन payment तभी करनी चाहिए जब हमे ऑनलाइन payment के बारे में अच्छे से जानकारी हो |

Crypto jacking– Crypto jacking एक प्रकार का cybercrime है जिसमे कोई hacker किसी person के computer system में कोई malicious link या email send करता है जिसके click करने से computer system में crypto mining code load हो जाता है |

Crypto mining code victim के computer system में background में चलता रहता है और victim के द्वारा की जा रही activity को देखता है |

Victim को इसका पता बस एक तरह से लग सकता है इससे उसका computer slow perform करेगा |

- Advertisement -

इसका use करके hacker आपकी कोई भी information आराम से पा सकता है और उसका use किसी भी तरह से कर सकता है|

Theft and sale of corporate data– किसी के computer system जैसे किसी corporation के computer system से data base में stored information को चुराना data theft कहलाता है |

यह cyber crime सभी प्रकार के business के लिए चाहे बड़ा हो या छोटा एक बहुत बड़ा issue है|

Cyber espionage (cyber espionage in Hindi)– cyber espionage इसे हम cyber spying के नाम से जानते है | cyber spying एक ऐसी activity है जिसमे hacker किसी victim के computer system या किसी organization के computer systems में बिना owner के permission के उसके computer में जा कर victim के personal information या उसके activity पर नजर रखता है|

आज कल के time में cyber spying एक बहुत बड़ा cyber crime है इसका use करके hacker government या किसी company के information को चुरा कर उसका use अपने तरीके से कर सकती है |

इसका use करके hacker victim के प्लान strategy पर नजर रख सकता है और उसी के हिसाब से अपना plan बना सकता है |

Control hijacking (control hijacking in Hindi)-

Control hijacking एक प्रकार का cyber attack है जिसमे hacker किसी specific या किसी organization के computer system पर पूरी तरह से access का command पा लेता है और उस authority को अपने हिसाब से use करता है |

- Advertisement -

Control hijacking सभी प्रकार के cyber attack में मेरे हिसाब से सबसे खतरनाक होती है क्योकि इसमे hacker/attacker आपके computer system में present सभी तरह के information को अपने हिसाब से modify या use कर सकता है जिससे आपको बहुत बड़ा नुकसान हो सकता है|

Control hijacking कई तरह का होता है –

Buffer overflow attack

Integer overflow attack

Format String vulnerability

Buffer overflow attack- यह एक प्रकार का hijacking attack है| computer में buffer temporary स्टोर करने वाला memory होती है जब data को एक place से दुसरे place पर ले जाना हो computer system में buffer overflow तब होता है जब data का साइज़ memory स्टोरेज से ज्यादा हो जाता है तो data overflow यानि पहले वाला data नये data से बदल जाता है |

ऐसी situation का फायदा उठाकर hacker memory का लोड बड़ा देते है और malicious code memory में inject कर देते है memory में virus पहुंचने से hacker/criminal अपने हिसाब से memory का data use manipulate कर सकता है|

Integer overflow attack-

इस attack में attacker कोई इसी value memory में पास करना है या प्रोग्राम में insert करता है जिससे की memory overflow कंडीशन में आ जाए|

इस attack को हम buffer overflow की ही तरह ही पता कर सकते है |

Format String vulnerability –

Format String vulnerability एक तरह का bug है जो user के input करने के format से होता है input के आई vulnerability को attacker identify करके आपके computer system को harm कर सकते है|

इसमें user input में format argument pass करता है जैसे printf, scanf आदि

उदाहरण के तौर पर यदि हम format argument %x,%x,%x,%x देते है तो 4 hexadecimal के फॉर्म में डेटाबेस से information pop हो जाती है इस तरह से hacker आपकी information निकल सकता है|

Ransomware attack (ransomware attack क्या है?)-

Ransomware एक तरह का malicious प्रोग्राम है जिसका use करके hacker आपके computer system में use होने वाले सभी software पर encryption लगा सकता है (encryption क्या होता है?) और उस आपसे encryption को हटाने के लिए पैसों की मांग कर सकता है और आपको धमकी भी दे सकता है यदि आप उसके द्वारा मांगी गयी पैसो की मांग पूरी नहीं करेंगे तो आपके सभी software में stored data को damage कर देगा|

एक attack के वजह से owner अपनी computer फाइल तक पहुंचने तक मे असमर्थ होता है क्योंकि hacker पूरी तरह से computer system पर अपना अधिकार बना लेता है उसकी द्वारा की गयी मांगो के पूरी करने के बाद ही शायद आप अपने computer पर वापस access पा सकते है|

Hacker पैसो की कीमत चुकाने का एक time भी तय करता है time पर ना देने से पैसो की रकम बढ़ती रहती है |

Example of cyber crime (cyber crime के उदाहरण )-

तो आखिर cybercrime होता क्या है और इसको hacker कैसे use करके किसी victim के computer system में stored data को manipulate करते है चलिए हम देखते है की cyber crime के example क्या है

Malware attack (malware attack क्या है?)-

Malware attack एक एसा attack है जिसमे victim का computer system किसी malicious code जैसे virus, worm से effect होता है|

Malware attack criminal बहुत सारे purpose को ध्यान में रखकर कर सकता है इसमे victim के personal detail को चुराना किसी confidential information को निकालना या किसी प्रकार के data को damage करना हो सकता है|

Malware attack में आज तक का सबसे बड़ा attack may 2017 में हुआ था, ransomware

Ransomware एक ऐसा cyber attack है जिसमे criminal victim के computer system पर command पाकर उसके data को damage या share न करने के लिए victim से फिरौती मांगता है|

2017 may में WannaCry attack हुआ या एक ransomware attack था इसके तहत 150 country के लगभग 230,000 computer इस attack से effected हुए

इस attack में victim अपने computer system की फाइल, data आदि को एक्सेस नही पा रहा था|

इस attack के होने से पुरे world को करीब $4 billion का नुकसान देखना पड़ा यह एक बहुत ही बड़ा cyber attack साबित हुआ|

Phishing (phishing क्या है?)-

Phishing एक प्रकार का cybercrime है जिसमे hacker/criminal किसी target या targets computer पर किसी प्रकार के suspicious email, text message या किसी तरह के information को भरने वाले फॉर्म आदि को send करके target की sensitive information (bank detail, credit card no., password) को निकालता है|

इस information का use करके hacker आपकी identity को चुरा सकता है या आपको बहुत भरी मात्रा में financial loss हो सकता है |

सबसे पहला phishing attack 2004 में Californian teenager ने किया था इसमे उसने एक America online नाम की एक website बनाई थी जिससे उसने बहुत सारे user के sensitive data को पा कर उनके bank account से पैसो भी निकले |

Email या website phishing एकमात्र phishing attack नही है यह भी कई तरह की होती है

Voice phishing (vishing)

SMS phishing (smashing)

आदि phishing technique का use करके attacker crime करते है|

Distributed DoS attack (denial of service attack क्या है?)-

Denial of service एक cyber attack है जिसमे hacker किसी network या computer system को use करने वाले owner/ user के लिए access unavailable कर देता है| इस attack के द्वारा attacker किसी victim को internet service लेने से रोकता है |

Hacker इस attack से बहुत बड़ी मात्रा में किसी specific person या किसी organization को नुकसान पहुंचा सकते है उन साडी service को user के लिए बंद करके जो उन्हें internet के द्वारा मिलती है|

Denial of service attack में hacker machine या network पर ओवरलोड बड़ा देते है जिससे लोग internet से मिल रही service use  न कर सके\ मात्र एक computer system और network कनेक्शन के साथ hacker यह attack perform कर सकता है|

इस attack का एक बहुत अच्छा example 2017 में एक website UK national पर हुआ था  

महिलाओ के खिलाफ cyber crime

महिलाओं की safety किसी भी देश के एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी है किसी देश को अच्छा और विकसित बनाने में जितना पुरुषो का हाथ होता है उतना ही महिलाओं का भी होता है तो यह बहुत ही ज्यादा important है की हर देश की महिलाये safe हो |

 पिछले कई सालों से महिलाओं पर होने वाली crime के बारे में कोई भी government या कोई भी society कभी भी चिंतित नही हुई है महिलाओ का status कभी भी किसी के लिए इतना important नही रहा वही कई महान इंसान इसे भी हुए जिन्होंने महिलाओ के लिए बहुत से नियमो जो उनकी growth के लिए ठीक नहीं था उनको हटवाया महिलाओ और पुरुषो के द्वारा कई वर्षो से किये जा रहे संघर्ष से अब society और government भी women security के बारे में सोचती है और सेफ्टी को बढ़ाने के लिए काम भी करती है |

जहा महिलाओ पर होने वाली psychical और mental crime होते चली आ रहे थे वही अब महिलाओ पर cyber crime की भी समस्या बडती जा रही है cyber crime आज के internet के time का एक बहुत बड़ा issue है |

कुछ stocker/hacker/criminal महिलाओं को उनके computer system से उनकी जानकारी निकल कर आसानी से परेसान कर सकते है और करते भी है महिलाएं अपनी personal detail को लेकर बहुत ज्यादा sensitive होती है और hacker/criminal उनकी इस कमजोरी का फायदा उठाकर उनसे फिरौती या अपनी मनपसंद चीजें करवा सकता है |

Hacker किसी victim महिला को उसके facebook, twitter, instagram आदि से stock कर सकता है और अपना target चुन सकता है |

महिलाओ पर आज के time दिन प्रतिदिन cyber crime होते आ रहे है और यह अपराध महिलाओं के अधिकतर उनके जान पहचान के लोग ही करते है |

उत्तर प्रदेश में पिछले साल 2020 में 136 महिलाओं पर cyber crime के मामले सामने आये|एन crime से बचने के लिए government ने बहुत सरे cyber थाने भी खोले है ताकि महिलाएं अपनी problem लेकर पुलिस के पास जा सके और खुद को safe फील करे |

Error 404 digital hacking in india-

इंडिया के द्वारा discuss किये कुछ cyber attack जिसमे attacker ने computer system पर पूरी तरह से control कर लिया इसमे से कुछ attack नीची लिखी है –

  • Israel के पॉवर grid पर होने वाला 404 digital hacking attack कई सरे attack में सबसे ख़राब माना जाता है|
  • 2014 में new york के हाइड्रोपावर plant पर होने वाला attack भी digital hacking था|
  • Bangladesh के किसी best hacker group ने करीब 20000 indian website को hack कर लिया था जिसमे Indian border security force भी थी| आदि|

Cyber crime के बचने के उपाय (cyber crime से बचाव )

Cyber crime से बचने के लिए सबसे पहला स्टेप यह है की आप अपनी computer system की security कितनी अच्छी और कैसे करते है आपको किसी भी तरह के crime से बचने का सबसे अच्छा तरीका यही हो सकता है की आप कितनी सावधानी से अपना काम करते है और कितनी अच्छी तरीके से कोई भी decision लेते है |

आपको अपने computer system पर कभी भी किसी भी तरह के suspicious link, email, टेक्स्ट massage या किसी तरह की website पर अपनी personal detail आदि डालने से बचना चाहिए

Hacker को आपके computer में घुसने के लिए एक week पॉइंट चाहिए होता है और आप इसे link पर click करके आप उनको यह पॉइंट देते है|

अपने bank detail, password जैसे चीजे कभी भी किसी के साथ share न करे |

अपना password स्ट्रोंग रखे एक strong password number, character, symbol का combination होता है तो कोशिश करे की आप अपने password को ऐसे ही बनाये |

यदि आप किसी प्रकार की organization में काम करते है या आप वहा के owner है तो आपको अपनी personal और important detail को encrypt(encryption क्या है?) करके रखना कहिये या फिर किसी को देना हो तो भी इसी तरह के process का use करना चाहिए|

अगर इतना सब करने के बाद भी आप किसी तरह के cyber crime का शिकार हो जाते है तो आपको अपने country जैसे की हम इंडिया में रहते है तो इंडिया में cyber crime से बचने के लिए government ने cyber पुलिस की व्यवस्था की है आप उनमे complain करके अपनी problem का solution पा सकते है|

इंडिया में cyber police को cyber crime के complain कैसे करे चलिए देखते है

  • सबसे पहले पास के cyber crime सेल में written complain register करे| इंडिया में IT act के अनुसार आप किसी भी cybercrime cell में जाकर अपनी complain दर्ज क्र सकते है उसके लिए आपको कही जाने की जरूरत नही होती है|
  • Complain में आपका नाम, address, mail id भी देनी होगी और साथ ही अपने city के हेड of cybercrime cell में एक written complain भी address भी करनी होगी |
  • आपके साथ ही crime के हिसाब से पुलिस स्टेशन में आपसे डॉक्यूमेंट आदि लिए जा सकते है|
  • यदि आपकी city में कोई cybercrime cell नही हो तो आप किसी भी लोकल पुलिस स्टेशन में अपनी complain दर्ज करवा सकते है |
  • इंडिया में cybercrime Indian penal code के द्वारा cover किये जाते है |
  • Indian penal code cyber crime को cognizable offense के तोर investigation करता है इस तरीके से investigation करने के लिए किसी भी तरह के warrant की जरूरत नही पडती है बस एक Zero FIR record करना होता है|
  • Zero FIR record में investigation बिना time waste किये जल्दी से जल्दी करना होता है तो इससे cyber crime पर जल्द से जल्द करवाई की जाती है|

Cyber act/ IT act क्या-क्या होते है?

भारत में होने वाले सभी तरह के cybercrime को हैंडल करने के लिए Indian government ने कुछ act बनाये गये जिसमे cyber crime या information technology से जुडी सभी तरह के नियमों को लिखा गया

IT act 2000 को information technology 2000 भी कहते है यह act 17 October 2000 को संशोधित किया गया यह act cyber से जुड़े या e commerce से जुड़े सभी तरह के problem को हैंडल करने के लिए बनाया गया IT act के तहत बहुत से act लिखे गये है सभी तरह के cyber crime के लिए अलग कानून और punishment लिखा गया है चलिए उनमे से कुछ पर नजर डालते है

Hacking-

Hacking present time के internet world का एक बहुत बड़ा अपराध है hacking एक ऐसा cyber crime है जिसमे कोई hacker/criminal किसी victim के computer system में घुस कर अथार्थ victim के computer पर अपना control बनाकर उसके information के साथ किसी तरह की भी छेड़ छाड़ कर सकता है या करता है | hacking के वजह से victim को बहुत भारी मात्रा में नुकसान उठाना पड़ सकता है| इस crime के लिए आईटी act में निम्न धराये है-

आईटी act-

आईटी act 2008 की धारा 43A, धारा 66

IPC की धारा 379 और 406 के तरह सजा

सजा-

यदि दोषी दोष साबित हो जाता है तो 3 साल की जेल और 5 लाख तक का जुर्माना देना होगा |

Stealing of data (data की चोरी)-

आज के time में information मात्र एक ऐसी चीज बन गयी है जिसको सभी से छुपाना और safe रखना बहुत important हो गया है hacker का काम आज कल किसी के private data को चुरा कर उसका use अपने according करते है कोई भी organization अपने data को सभी तरह के harmful चीजो से च कर रखती है ताकि कोई भी अंजान इंसान उसके data का misuse ना कर सके data stealing एक बहुत बड़ा अपराध है क्योकि कोई hacker आपके data को उसे करके आपको बहुत बड़ी मात्रा में नुकसान पहुंचा सकता है| इस crime के लिए आईटी act में निम्न धराये है-

 आईटी act –

आईटी(संसोधित) कानून 2008 की धारा 43B, धारा 66E, 67C

IPC की धारा 379, 405, 420

Copyright act (Copyright act क्या होता है?)

यदि कोई व्यक्ति किसी चीज को बनाता है तो वह चाहता है की उसकी बनाई गयी चीजो पर सिर्फ उसका ही नाम हो और उसके ही नाम से वह पूरी दुनिया में पहचानी जाय वह यह कभी नही चाहेगा की उसकी बनाई गयी चीज को कोई अनजान इंसान अपना नाम दे यह उसका use करके ख्याति कमाए तो इस चीज से बचने के लिए यदि आप कोई चीज को बना रहे है तो आपको उसका copyright ले लेना चाहिए ताकि आपके द्वारा बनाई हुई चीज को कोई और इन्सान अपना न कह सके |

आईटी act के तहत यह act लागू किया गया है यदि कोई इंसान अपनी चीज का copywrite लेता है और यदि उस चीज को कोई और अपना बनाने की कोशिश करता है तो use भारी मात्रा में नुकसान उठाना पड़ सकता है|

सजा-

जितना बड़ा अपराध उसी के हिसाब से सजा दी जाती है तकरीबन 3 साल की जेल और/या 2 लाख रुपया जुर्माना

Spread virus and spyware-

बहुत से ऐसे लोग होते है जो virus से related problem के बारे में अच्छी तरह से नही जानते है या उनसे होने वाले effects का भी नही पता होता है पर यह भी एक बहुत important issue है आज के time का कोई भी bad intention रखने वाला इंसान आपके computer system में virus को डाल कर आपके computer के information को निकल सकता है एक computer virus किसी भी तरह से computer में डाला जा सकता है यह किसी email, टेक्स्ट massage, या किसी तरह की suspicious तरह की website से आपके computer system में आ सकता है और आपके system को slow या फिर आपके system से information को निकाल या manipulate कर सकता है |

यह भी एक तरह का crime है जिसके लिए कुछ नियम कानून बनाये गये है| इस crime के लिए आईटी act में निम्न धराये है-

आईटी act-

आईटी(संशोधित) act 2008 की धारा 43C, धारा 66

IPC की धारा 268

यदि virus देश की safety को harm करने के लिए है तो यह आतंकवाद से related pay जायगी तो इसे धारा 66 F के तरह हैंडल किया जायगा|

सजा-

Cyber warfare और cyber terrorist से जुड़े crime के लिए life sentence(उम्र कैद) तथा दुसरे crime के लिए 3 साल तक जेल और जुर्माना

Stealing identity –

किसी की पहचान चुराना एक बहुत बड़ा अपराध है चाहे वह internet की दुनिया में हो या फिर social life में internet में hacker/criminal किसी authorized person की identity चुराकर वह जिस भी company या किसी organization के employee की identity को चुराकर उस company/organization की important information आसानी से निकल सकता है |

चुराई हुई identity से hacker मात्र information के stealing के अलावा भी काफी सारी हानिया victim को पहुंचा सकता है |

इस crime के लिए आईटी act में निम्न धराये है-

आईटी act-

आईटी(संशोधित) act 2008 की धारा 43, धारा 66C

IPC की धारा 419

सजा-

3 साल तक की जेल और/या 1 लाख तक का जुर्माना

Email spoofing and fraud-

Internet पर किसी data को एक place से दुसरे place तक भेजना मेरे हिसाब से सबसे पहले email के द्वारा ही शुरू किया गया होगा email यानी electronic massage एक बहुत ही अच्छा साधन है किसी data को किसी दुसरे इंसान तक पहुचाने का इसलिए बहुत जरूरी है की email confidentiality बनी रहे क्योकि email में बहुत important data भी speared किया जा सकता है जिसके लिये email बहुत सी security provide करता है पर technical skills जानने वाली hacker email को hack कर सकते है और fraud email speared कर सकते है email hack करना भी उतना ही बड़ा अपराध है जितना बड़ा किसी की identity को चुराना|

Hacker आपकी email id का use करके किसी भी तरह की activity कर सकता है और आपकी identity को harm कर सकता है|

इस crime के लिए आईटी act में निम्न धराये है-

आईटी act-

आईटी act 2000 की धारा 77B

आईटी(सशोधित) act 2008 की धारा 66 D

IPC की धारा 417, 419, 420 और 465

सजा-

3 साल तक जेल या जुर्मना

तंग करना-

Social networking website जैसे email, WhatsApp, Facebook आदि पर बहुत से ऐसे खराब सोच रखने वाले इन्सान होते है जो social website को use करने वाले बच्चो और महिलाओं को तंग करते है उसकी id को चुराकर या फिर उनकी personal details को चुराकर उन्हें thread कर सकते है |

जिस तरह physical toucher किसी इंसान को बहुत भरी मात्रा में परेशान कर सकता है उसी तरह social website में लोग victim की detail से mentally thread कर सकता है|

यह भी एक बहुत बड़ा जुर्म है इसके लिए बनाये गये act निम्नलिखित है –

आईटी act-

आईटी(संशोधित) act 2009 की धारा 66A

सजा-

3 साल तक की जेल या जुर्माना

Pornography (Pornography क्या है?)-

यह आज के time की बहुत बड़ी समस्या बनती जा रही है pornography एक ऐसी समस्या है जिसमे internet पर यौन चीजो से जुड़े हुए video, text, ऑडियो डाले जाते है यह video/audio/text बिना victim के जानकारी के electronic जरिये से दुसरो को भेजा जाता है या website पर spread कर देते है |

किसी भी तरह की अश्लील चीजे internet पर फैलाना या एक दुसरे को देना एक बहुत बड़ा जुर्म है |

यह एक बहुत बड़ा जुर्म है और इसके लिए आईटी act में निम्न act लिखे गये है-

आईटी act-

आईटी(संशोधित) act 2008 की धारा 67A

IPC की धारा 292, 293, 294, 500, 506, 509

सजा-

जुर्म की गंभीरता पर पहली गलती पर 5 साल तक की जेल और/या 10 लाख रुपया तक जुर्माना दूसरी गलती पर 7 साल तक की जेल

Child pornography-

बच्चों से जुडी sexual video या किसी तरह की नग्न picture को internet पर डालना child pornography कहलाती है इस मामलो में कानून और ज्यादा कडा होता है बच्चे यानि जो 18 साल से छोटे है उनसे जुडी किसी भी तरह की यौन संबंधित चीजो को बनाना या एक दुसरे को बांटना सब एक जुर्म मन जायगा और इसकी सख्त सजा दी जायगी

आईटी act-

आईटी(संशोधित) कानून 2009 की धारा 67B

IPC की धाराए 292, 293, 294, 500, 506, 509

सजा-

पहले अपराध पर 5 साल तक जेल और/या 10 लाख तक जुर्माना दुसरे अपराध पर 7 साल तक की जेल|

भारत में स्थित Cyber Crime cell की list (cyber crime helpline number ) –

चलिए जानते है की भारत में कोन कोनसे cyber crime cell स्तिथ है

Lucknow Cyber Crime Cell

Economic Offences Wing

Address: V-Floor, Indira Bhawan, Ashok Marg, Lucknow

Contact: (0522) 2287253

Email ID: eowhq@up.nic.in

Visakhapatnam City Cyber Cell

Website: http://vizagcitypolice.gov.in/CyberCrimes.html

Address: CCS building in the premises of II Town Police Station,

Dab gardens, Visakhapatnam City – 530020

Contact: Inspector of Police – 9490617917; Sub-Inspector of Police – 9490617916.

Email ID: inspr_cybercrime@vspc.appolice.gov.in,

 cybercrimesps@cid.appolice.gov.in, cidap@cidap.gov.in

Gujarat Cyber Crime Cell

Website: http://www.police.gujarat.gov.in

Address: First floor, Police Bhavan, Sector 18, Gandhinagar

Contact: (079) 23246330/23254344

Email ID: dgp-scr@gujarat.gov.in, cc-cid@gujarat.gov.in, Dcp-crime-ahd@gujarat.gov.in

Bangalore Cyber Crime Cell

Website: http://www.cyberpolicebangalore.nic.in/

Address: Cyber Crime Police Station, CID Annexe Building, Carlton House, # 1, Palace Road, Bangalore – 560001

Contact: 8022094498

Email ID: cybercrimepscomplaint@gmail.com

Nagaland Police Headquarters

Website: http://nagapol.gov.in/

Address: Nagaland Police Headquarters, P. R. Hill, Kohima – 797001, Nagaland

Contact: (0370) 2243711/2243713

Email ID: scrb-ngl@nic.in/scrbpnaga@yahoo.com

Rajasthan Police Department

Website: http://police.rajasthan.gov.in

Uttar Pradesh Cyber Crime Cell

Website: https://uppolice.gov.in

Email ID: digcomplaint-up@nic.in, dgpcontrol-up@nic.in

Noida Cyber Crime Cell

Website: http://www.cccinoida.org

Address: Centre for Cyber Crime Investigation, Plot No: B-110 A, Sector-6, Noida

Contact: (0120) 2422271, 8800165252

एक नजर इधर भी –

प्रिय पाठक इस लेख में हमने आपको साइबर क्राइम क्या है , इसके प्रकार क्या हैं , साइबर एक्ट और नियम क्या हैं इन सभी के बारे में हमने विस्तार से चर्चा की है अगर अभी भी आपको किसी प्रकार का संदेह है तो आप हमें कमेंट करके जरुर बताये | हम आपकी पूरी सहायता करेंगे |

आप हमारे इस लेख को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि हम आपके लिए इसी तरह से लेख लिखते रहें |

- Advertisement -
Pooja Yadav
पूजा एक बहुत अच्छी लेखक और तकनीकी के अच्छी जानकर हैं , hinditarget.com पर पूजा दैनिकजीवन की समस्यायों और तकनीकी से सम्बन्धित लेख लिखती हैं, इन्होंने Information Technology से Engineering किया है| ये विभिन्न प्रकार की बेहद काम की जानकारीयाँ शेयर करते रहती हैं !

1 COMMENT

  1. ky hm hecking sikh kr syber atek se bch skte hu ki nhi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

हमसे जुड़े

506FansLike
300FollowersFollow
201FollowersFollow

नये लेख

सम्बन्धित लेख