Programming Language क्या है ?

- Advertisement -

Programming Language क्या है ? यह जानने से पहले आपको पता होना चाहिए कि Computer क्या है ? दोस्तों मैं उम्मीद करता हूँ कि यह तो आपको पता ही होगा तो चलिए बढ़ते हैं अपने मुख्य Topic पर । 

किसी भी Computing Device जैसे Mobile , Laptop , Computer , Calculator आदि सभी पर जब भी हम कोई न कोई काम करते हैं तो वहां पर हमें हर एक काम को करने के लिये एक Software की जरूरत होती जोकि उस Device में होता है । अब बात आती कि हर एक अलग तरीके के काम के लिये अलग अलग Software की जरूरत क्यों पड़ती है और यह सॉफ्टवेयर या अप्पीकेशन एक Programming Language के द्वारा बनाये जाते हैं । 

आखिर प्रोग्रामिंग क्या है ,कोडिंग किसे कहते कहते हैं , प्रोग्रामिंग लैंग्वेज कितने प्रकार की होती हैं आदि सभी प्रकार सवालों के जवाब हम आपको इस लेख में विधिवत देने वाले आप प पोस्ट को अंत पढ़ें ताकि आपके सारे सवालों के जवाब मिल सके । 

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज क्या है ?(What is programming language in hindi)

सबसे पहले आपको यह जानना बहुत जरूरी है कि कोई भी Computing Device केवल मशीन भाषा को ही समझ सकती है । कंप्यूटिंग यंत्र सिर्फ बाइनरी नंबर को ही समझते हैं बाइनरी नंबर का मतलब 0 और 1 के रूप में हमारे सभी Computer, Laptop और अन्य Device समझते हैं । जैसे – हम जब किसी अक्षर को अपने Computer या अन्य किसी Computing Device में लिखते हैं तो 0 और 1 के रूप में उसे समझता है उदाहरण के तौर पर हमने A लिखा तो यह Computer इसे 011010 के रूप में समझेगा । 

अब बात आती है कि अगर हमें Computer में 0 और 1 के रूप में कोई Instruction देना होगा तो वह बहुत ही हमारे लिए मुश्किल होगा हम यह 0 और 1 के रूपों को याद नही रख सकते हैं । इसके एक User और Computer के मध्य एक माध्यम तैयार किया गया जिसे हम एप्लीकेशन या सॉफ्टवेयर कहते हैं । लेकिन अब बात आती यह सॉफ्टवेयर कैसे हमारी भाषा को Comptuer की भाषा में बदलते हैं । 

तो यहां पर ही हम उपयोग करते हैं Programming Language की । जब भी हमे किसी सॉफ्टवेर को बनाना होता है तो उसके लिए हमे किसी एक प्रोग्रामिंग Language की जरूरत होती है । यह language पहले से लिखी गई एक निर्देशों का समूह होती हैं जिसमें हम अपने मनचाहे प्रोग्राम को बनाते हैं और इस Programming Language की मदद से हम Computer को मशीनी भाषा में निर्देश दे पाते हैं।  

आसान भाषा में कहे तो प्रोग्रामिंग लैंग्वेज पहले से लिखे गए निर्देशों का समूह होता है जिनका उपयोग करके हम प्रोग्राम लिखते हैं और Appication या Software बनाकर अपने Device में चला सकते हैं । प्रोग्राम लिखने की प्रक्रिया ही Coding कहा जाता है। 

Programming Language कितने प्रकार की होती हैं ? (Types of programming language )

मुख्य रूप से प्रोग्रामिंग भाषा दो प्रकार की हो होती हैं – Low Level Programming Language और High Level Programming Language । 

Low Level Programming Language –

इस प्रकार की language को हम Machine Language भी कहते हैं क्योंकि हमारा Computer Low level Language को आसानी से समझ जाता है । लेकिन इस प्रकार Language को एक Programmer आसानी से नही समझ पाता है क्योंकि यह Language बहुत Short Code में Likhi गयी होती हैं जिन्हें समझना काफी मुश्किल हो जाता है जैसे हमे गणित के कुछ सवालों को हल करना है तो इस में Operations को बहुत ही कम शब्दों में लिखा जाता है जैसे – गुणा के लिए MUL , जोड़ ADD आदि । उदाहरण की बात करें तो Assembly Language एक Low Level Language है । 

High Level Programming Language –

- Advertisement -

इनमें प्रोग्राम को लिखने और समझने के लिए Full Flexed Syntax का उपयोग किया जाता है जिसे एक Programmer या फिर मानव बहुत ही आसानी से  समझ सकता है लेकिन वहीं पर High Level Language को Computer आसानी से नही समझ पाता है इसके लिए Compiler या फिर Interpreter का उपयोग किया जाता है जोकि हमारे लिखे गए प्रोग्राम को Machine Language में बदल कर Computer के समझने योग्य बना देता है । जैसे – हम कि language में कोई Program लिखते है तो C language का Compiler उसे मशीनी भाषा में बदल देता है जिससे कंप्यूटर आसानी से समझ जाता है । कुछ High Programming Languages इस प्रकार हैं –

  • C
  • C++
  • Java 
  • Python
  • Kotlin
  • PHP आदि 

इनके प्रकार की बात करें तो शायद यह आपको समझने में थोड़ी दिक्कत हो सकती है लेकिन अगर आप पहले प्रोग्रामिंग के बारे में थोड़ा बहुत ज्ञान रखते हैं तो या आपको आसानी से समझ में आ जाएंगी । Programming Language को कई प्रकार से बांटा गया है –

Procedural Programming Language –

इस प्रकार की लैंग्वेज में सभी लिखी गयी Lines एक एक Sequence में होती है और इनमें Variables बहुत ही ज्यादा उपयोग किये जाते हैं और काफी Loops का भी उपयोग होता है । 

इस तरह की लैंग्वेज में लिखे गए प्रोग्राम की हर एक Line एक के बाद एक Execute होती हैं । इसे हम Structured Language भी कह सकते हैं । जैसे –  C language 

Functional Programming Language-

इस प्रकार की Language का उपयोग मुख्यतः Data को Store करने के लिए किया जाता है । इसमें Loops की जगह Recursive Functions का उपयोग किया जाता है । इस में किसी Functions से ली जा रही Values पर फोकस करते हैं । 

Object Oriented Programming Language –

इस प्रकार की language को समझना बहुत ही आसान होता है क्योंकि इन भाषाओं में Real Life में उपलब्ध जीव या फिर वस्तु को आधार मानकर प्रोग्रामिंग की जाती है। इसे OPP’s के नाम से भी जाना जाता है ।

Object Oriented Programming Language का उपयोग आजकल बहुत ज्यादा किया जाता है क्योंकि इनमें बहुत से Methods है जिनका उपयोग करके हम बहुत कम समय में बहुत Effective प्रोग्राम को लिख सकते हैं । इतना ही Object Concept के आधार पर हम एक बने हुए प्रोग्राम के भाग को हम अपनी इच्छानुसार जिस जगह चाहे उपयोग कर सकते हैं जिससे हमें एक ही काम के लिए Same Code बार बार नही लिखना पड़ता है । इस प्रकार की Language के 4 मुख्य Pillar होते हैं जोकि इस प्रकार हैं-

  • Abstraction
  • Encapsulation
  • Inheritance
  • Polymorphism

Scripting Programming Language-

कभी कभी यह Languages Procedural और Object Oriented programming के तरह काम करती हैं लेकिन यह पूरी तरह से Programming Language नही होती हैं । जिनका Syntax और लिखना का तरीका बहुत ही आसान होता है । ज्यादातर यह भाषएँ Frontend Development में काम आती हैं । आजकल User Interaction को ध्यान में रकह जाये तो यह बहुत ही जरूरी Language बन गयी जिन्हें सीखना ही चाहिए एक Software Enginneer को । आजकल सबसे ज्यादा Scripting के लिए जो Language उपयोग में लायी जा रही है । वह JavaScripct। 

Programming कैसे सीखें ?

Coding कैसे सीखें ? यह आजकल एक Common सवाल हो गया है लेकिन हम आपको बताना चाहते हैं कि अगर आप Computer से लगाव रखते हैं और आप चाहते हैं एक Programmer बनना तो मैं आपको बता दूं कि यह एक आसान काम तो नही है लेकिन यह मुश्किल भी नही है। 

अगर आप प्रोग्रामिंग को सीखना चाह रहे हैं तो मैं आपको कुछ बहुत ही जरूरी Steps को बताऊंगा जिन्हें आप Follow करके बहुत ही आसानी से Programming सीख सकते हैं –

  • सबसे पहले तो आपको एक सरल और आसान प्रोग्रामिंग भाषा को चुनना है ।
  • शुरुआत में सबसे बेहतर और आपके Concept को जो Language Clear कर सकती है वह है C language।
  • आप C Language से शुरुआत करें ।
  • इसके लिये आप Online यह Offline एक Book जरूर खरीद लें ताकि आपको समझने में आसानी हो । 
  • आप Youtube पर Mysirg.com सर्च करें वहां पर एक Youtube Channel आ जायेगा जिसमें Saurabh Sir ने बहुत से Programming Language की Series बना रखी है । 
  • मैं आपसे Saurabh Sir से पढ़ने के लिए इसलिये कह रहा हूँ क्योंकि जब मुझे प्रोग्रामिंग सीखनी थी तब मैंने Youtube पर बहुत सी Videos देखी लेकिन सौरभ सर का बताने का तरीका बहुत ही लगा और मेरे Concept बहुत ही आसानी से Clear हो गए। 
  • आपको रोजाना कम से कम 3 से 4 छोटे छोटे प्रोग्राम बनाने हैं । जिससे आपको कि language के Syntax अच्छे से याद हो जाएंगे और Logic बनाना आसान हो जाएगा ।
  • कम से कम 30 दिनों तक आप अच्छे से इस भाषा को सीखें ।

C Language Playlist By Saurabh Shukla Sir

जब आप C language से Familiar हो जाएंगे उसके बाद आप अपने अनुसार किसी भी Language को आसानी से सीख सकते हैं। इसके बाद आप जिस भी लैंग्वेज का चुने उसे सीखने से पहले आपको यह Decide कर लेना है कि आप Web Development में जाना चाहते हैं या Android Development में जाना चाहते हैं उसी के अनुसार आप अपनी अगली Programming Language को चुने।

कौन सी Programming Language सीखनी चाहिए ?

Market बहुत सी Programming Language Developed हो चुकी हैं जिसकी वजह से लोगों को हमेशा Confusion रहती है कि वह कौन सी Language सीखे ।

- Advertisement -

सबसे पहले आपको यह Decide करना होगा कि आप किस Field में जाना चाहते हैं , जैसे –

  • Web Development
  • Android Development 
  • Windows Development 
  • MAC os यह फिर IOS Development आदि 

इनमें से आप की भी एक एरिया को चुनो उसके बाद यह सर्च करें कि आपके एरिया से सम्बंधित कौन सी Language ज्यादा Market में उपयोग की जा रही है और उनमें से 2 से 3 Language की List बनाकर किसी एक Language को अपने इच्छानुसार सीखना शुरू कर दें । यह करना इसलिए जरुरी है क्योंकि IT Industry में नयी Technology से Aware रहना बहुत जरूरी जिसके लिए आपको हमेशा Trending Technology को ही सीखना चाहिए ।

कुछ महत्वपूर्ण Programming Language की सूची List Of Programming Language –

  • C++
  • Python
  • Java
  • Kotlin
  • Swift
  • PHP
  • Dot Net
  • JavaScript
  • Ruby
  • C#
  • GOLang
  • PyTorch
  • Perl

इन्हें भी पढ़ें –

What is full stack developer ? फुल स्टैक डेवलपर क्या है ?

FRONTEND DEVELOPER किसे कहते हैं , कैसे बने-पूरी जानकारी।

BACKEND DEVELOPER किसे कहते हैं कैसे बने ? पूरी जानकारी –

Programming सीखने के क्या फायदें हैं ?

अगर Programming को लेकर बहुत Curious है तो आपको हम बताना चाहेंगे को आज का समय Internet का समय है और Internet पर जो भी Website और App आप उपयोग करते हैं वह Programming Language का उपयोग कर के ही बनाये जाते हैं । आज कल सभी छोटे से बड़े बिज़नेस , स्कूल , संस्थान आदि अपनी एक Website बनवाना चाहते हैं इसीलिए आपके पास प्रोग्राममिंग सीखना एक Opportunity के तरह हो सकता है। आप यह प्रोग्रामिंग सीख कर  लाखों रुपये महीना कमा सकते हैं ।

इतना ही नही जैसे जैसे लोगों की Internet की जरुरत बढ़ती जा रही है वैसे वैसे IT कंपनियों को Programmer और Developer की जरूरत बढ़ती जा रही है और वो Developers को बहुत ही ज्यादा मात्रा में Hire कर रहीं हैं । प्रोग्रामिंग सीखने के बाद आप कई तरीकों से पैसा कमा सकते हैं –

  • आप एक Freelancer की तरह काम करके काफी पैसा कमा सकते हैं।
  • अपनी खुद की Web Development Company बनाकर काफी पैसा कमा सकते हैं।
  • आप एक IT Company में एक Employee की तरह काम कर सकते हैं ।
  • आप आपमे आसपास के छोटे छूटे बिज़नेस के लिए Website बनाकर उनसे पैसा कमा सकते हैं।

अक्शर पूछे जाने वाले सवाल ? FAQ

- Advertisement -

प्रोग्रामिंग कौन सीख सकता है ?

प्रोग्रामिंग हर कोई सीख सकता है इसके लिए सिर्फ Basic इंग्लिश पढ़ना आना चाहिए ।

सबसे पहली Programming Language कौन सी थी ?

सबसे पहली प्रोग्रामिंग  लैंग्वेज FORTRAN थी जोकि 1956 में लिखी गयी ।

C language कब और किसने लिखी गयी ?

C Language को 1972 में Bell Laboratories में Dennis Ritchie के द्वारा विकसित किया गया ।

Facebook को किस Language में बनाया गया है ?

Facebook को PHP प्रोग्रामिंग भाषा में बनाया गया है। 

Python Programming Language कहां उपयोग की जाती है ?

इस language के बहुत से Framework हैं जिनका उपयोग करके आप किसी भी प्रकार की वेबसाइट या Application बना सकते हैं। ज्यादातर Python को AI और Machine Learning में उपयोग किया जाता है। 

अपने क्या सीखा –

दोस्तों इस लेख के माध्यम से हमने आपको यह बताने की कोशिश की Programming Language क्या है ,और इससे सम्बन्धित आपके सभी सवालों के जवाब देने की पूरी कोसिस अगर आपको लगता है कि हमने कुछ जानकारी अधूरी छोड़ दी है तो आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं हम आपको उसका उत्तर देने की पूरी कोशिस करेंगे । आप हमारे इस लेख को शेयर करना बिल्कुल भी न भूले ।

- Advertisement -
Pankaj Yadavhttp://hinditarget.com
नमस्कार दोस्तों  ! मै Pankaj Yadav , HindiTarget.com का Owner | मै एक Web Developer हूँ | मै इस ब्लॉग के माध्यम से नयी नयी जानकारियां लाता रहता हूँ। कृपया आप हमे SUPPORT करे ताकि हम आपसे इसी तरह जुड़े रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

हमसे जुड़े

506FansLike
300FollowersFollow
201FollowersFollow

नये लेख

सम्बन्धित लेख