शहद के चौंका देने वाले फायदों के बारें में जरुर पढ़ें

- Advertisement -

Table of Contents

शहद क्या है और कैसे बनता हैं-(What is honey in hindi)

शहद एक ऐसा चिपचिपा हुआ अर्ध तरल है जो औषधिय गुणों से भरपूर होता है।यह मधुमक्खियों के जरिये  संधनित फूलो के रस के द्वारा बनाया जाता है।यह बहुत ही मीठा और स्वादिष्ट होता है।शहद स्वादिष्ट होने के साथ इसमें एंटी ऑक्सीडेंट विटामिन बी और कई तरह के खनिज पाये जाते हैं।जानते हो शहद इतिहास से ही मानव के जीवन में प्रयोग होने वाली सबसे पुरानी औषधियों में से एक है।और आज भी इसका इस्तेमाल उसी प्रकार से किया जाता है क्योंकि यह सभी औषधिय गुणों में से एक है।

शहद मधुमक्खीयों के द्वारा विभिन्न फूलों की खुशबु और रसों के द्वारा बनाती हैं।और इससे वे अनेक प्राकृतिक एंजाइम मिलाकर अपने छतों में बहुत ही सभाल कर कहती है। शहद मधुमक्खियों का ही भोजन है जो मूल रूप से अपने लिए ही बनाती हैं। मक्खियां शहद बनाने के लिए बहुत ही मेहनत करती हैं।

वह दूर दूर तक फूलों को ढूंढते हुए जाती हैं और फिर उन फूलों का रस अपनी सूड़ की मदद से पेट में भरकर अपने छत्ते तक लाती हैं और फिर इस रस को एक या दूसरे श्रेणी की मधुमक्खियों के सामने उगल देती हैं और इस रस को मधुमखियाँ धीरे- धीरे चबाकर अपने मुंह से निकले हुए एंजाइम को मिलती रहती हैं और जो यह  कच्चा होता है यही शहद मोम के बने छत्ते के नली जैसे षट्कोणीय खानों में संसाधित होने के लिए छोड़ होने के लिए भर कर छोड़ देती हैं और जो इसमें पानी होता है उसे सुखाने के लिए अपने पंखों को धीमे-धीमे फड़फड़ाती हैं।मधुमखियाँ इस काम में बहुत ही माहिर होती है की जब तक पानी की सही मात्रा पहुंच न जाये वे रुकती नहीं है।और जब यह रस 15-18 प्रतिशत तक गाढ़ा हो जाता है तब इस मोम की एक बहुत ही महीन परत से ढक कर छोड़ देती हैं।और इसी कारण से हम शहद को चाहे जितने महीनों तक रखे वह वैसे ही गुणों से भरपूर रहता है।

और जो मधुमक्खियों के जोड़े होते हैं वह 10-15 पर आराम से जी सकती हैं।यह जब जंगलो में होता है तो इसे भालू खाते हैं या फिर कोई ओर जानवर और फिर कोई न कोई व्यक्ति निकाल लेता है।अगर ग्रीष्म या फिर बसन्त ऋतु  हो अगर मौसम अच्छा होता है तो एक छत्ते में 25 किलो तक शहद पाया जा सकता है। 

शहद में पाए जाने वाले पौष्टिक तत्व-

shahad ke fayde
shahad ke fayde

वैसे तो सबको पता है कि शहद सभी पौस्टिक तत्वों से भरपूर है लेकिन हम बता देते हैं कि इसमें क्या क्या पाया जाता है-शहद में नायसिन,कार्बोहाइड्रेट,राइबोफ्लेविन,और विटामिन में विटामिन बी -6,विटामिन सी और एमिनो एसिड भी पाया जाता है।21ग्राम शहद में 64 कैलोरो और 17 ग्राम शुगर (फ़्रेक्टोज,ग्लूकोज,सुक्रोज,माल्टोज) पाया जाता है।

शहद के औषधिय गुण –

शहद एक इतिहास से चले आने वाला घरेलू औषधि है।अगर हम इसके औषधीय गुणों के बारे में बात करे तो यह हमारे अनगिनत बीमारियों के लिए लाभदायक है।और ज्यादातर आज शहद का उपयोग immunity पॉवर बढ़ाने ,वजन कम करने,और त्वचा को निखारने में किया जाता है।इसके अलावा honey में एंटी बैक्टीरियल और एंटी सेप्टिक गुण होते हैं जो ओर भी बीमारियों के लिए फायदेमंद होते हैं।

शहद के फायदे(Benefits of Honey in hindi)-

आप लोगों को पता ही है कि किसी भी चीज में जितने ज्यादा पौष्टिक तत्व होंगे वह हमारे लिए उतनी ही ज्यादा फायदेमंद होती है।तो इन्ही सब चीजों में से एक है शहद जो हमारे लिए बहुत ही फायदेमंद है और यह हमें सभी बीमारियों से छुटकारा भी दिलाता है तो चलिए जानिए शहद के फायदे और इसके उपयोग –

01.तनाव कम करने के लिए शहद के फायदे –

शहद में एक ऐसा रॉ हनी में एंटीडिप्रेसेंट प्रभाव पाया जाता है।और इसी के प्रभाव के कारण शहद में तनाव या अवसाद को कम करने के गुण शामिल होते हैं।और रिसर्च से पता चला है कि अगर शहद का सेवन करे तो इससे तनाव भी कम होता है।शहद चिंता दूर करने के साथ यह हमारे स्मृति के लिए भी फायदेमंद होता है।इसलिए अगर किसी को तनाव या चिंता जैसे लक्षण दिखे तो उन्हें शहद का सेवन जरूर करना चाहिए।

2.वजन कम करने में शहद के फायदे- (uses of honey for weigth loss in hindi)-

बहुत लोग ऐसे होते हैं जो अपने मोटापे से परेशान होते हैं जिसकी वजह से उनको बैठने चलने में तकलीफ होती है।तो हम आपको बता दें कि वजन कम करने के लिए शहद का सेवन कीजिए क्योंकि शहद में वसा की मात्रा बिल्कुल भी नहीं होती है।जिससे यह वजन को नियंत्रित रखता है।

 3. घाव भरने में शहद के फायदे(Honey for healing wound in hindi)-

- Advertisement -

 जब किसी चीज से हमें चोट लगती है तो वहां पर घाव हो जाता हैऔर सूजन भी आ जाती है।इस घाव को ठीक करने के लिए आपके पास सबसे अच्छा उपाय शहद का सेवन करना है।क्योंकि शहद में फ्लेवोनॉयड् ,फेनोलिक एसिड और लैसोजाइम में एंटीबैक्टीरियल और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं इन्ही गुणों की वजह से घाव जल्दी भर जाते हैं।घाव भरने के साथ यह सूजन को भी कम करता है और क्षतिग्रस्त कोशिकाओं की मरम्मत भी करता है।

4.गले की खराश के लिए शहद के फायदे (Benefits of honey for throat infection in hindi)-

अगर किसी को गले में खरास है या फिर सर्दी जुकाम हो तो इसके लिए भी आपको honey का सेवन करना चाहिए। कुछ लोगों का गला भी बैठ जाता है तो उसके लिए भी आप को शहद का उपयोग करना चाहिए।क्योंकि की ये हमारे लिए बहुत फायदेमंद होता है।

5.कटने या जलने पर शहद के फायदे(Benefits of honey for burn and cut in hindi)-

अगर किसी भी प्रकार से त्वचा कट गई हो या फिर छिल गई ही और या फिर जल गई हो तो इसके लिए भी आपको शहद का उपयोग करना चाहिए ।क्योंकि अगर आप किसी भी प्रकार से कट या छिल गए हो अगर आप उनको ऐसे हो छोड़ दोगे तो इसमें संक्रमण फैलने का खतरा बना रहता है।शहद में एंटी सेफ्टिक गुण होते हैं जो सिर्फ हमारे जले हुए हिस्से को ठीक नहीं करते बल्कि संक्रमण को फैलने से भी रोकते हैं।

6.मुंहासे दूर करने में उपयोगी (Benefits of honey for acne in hindi)-

कुछ लोग होते हैं जिनको मुहांसे निकल आते हैं। जिसकी वजह से वे बहुत परेशान रहते हैं तो इसके शहद का प्रयोग कीजिए।क्योंकि शहद में जायलोज(Xylose) और सुक्रोज वाटर एक्टिविटी को कम करता है।और बैक्टीरिया को बढ़ने नहीं देता है।इस प्रकार से शहद हमारे मुहांसों के लिए फायदेमंद होता ।

7.बालों के लिए शहद फायदेमंद ( Uses of honey for  hair in hindi )-

shahad ke fayde
shahad ke fayde

आज कल तो बाल गिरना एक आम बात हो गई है।और यह सब होता है बालों के रूखेपन के कारण रूखापन होने से नाल बहुत तेजी से झड़ने लगते हैं जिससे गंजापन हो जाता है।हम बताते हैं अगर आप अपने बालों के रूखे पन को दूर करना और सुंदरता बढ़ाना चहाते हो तो शहद का उपयोग कीजिये।क्योंकि शहद में एंटी ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं ।जो बालों में होने वाले फ्री रेडिकल को हटाती है और ज्यादा देर से बालों में धूप लगने या केमिकलों से बचाता है।

>लेमन ग्रास के फायदों के बारें में जानें

8.कब्ज से राहत (Uses of honey for constipation in hindi)-

कब्ज एक बहुत ही हानिकारक बीमारी है क्योंकि अगर आप कब्ज के रोगी हो गए तो समझो आप और बहुत सी बीमारियों से ग्रसित होने लगेंगे।जो शहद होता है वो शरीर मे फ़्रेक्टोज के अवशोषण को कम करती है और हमें कब्ज से राहत दिलाती है।और इसके साथ ही यह पेट फूलने,और गैस की समस्या से भी छुटकारा पाते हैं।

9.खांसी के लिए फायदेमंद शहद(Benefits of honey for cough in hindi)

बहुत से लोग होते हैं जिनको खांसी आती रहती है और वो इससे बहुत ही परेशान रहते हैं।और उनको कई दिनों तक खाँसी आती ही रहती हैं।तो आपको धरेलु उपाय शहद का प्रयोग करना चाहिए।शहद में एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं जो संक्रमण को फैलने से रोकती हैं और कफ को पतला करती हैं।जिससे कफ आसानी से बाहर निकल जाता है और हमें खाँसी से आराम दिलाता है।

10.रोग प्रति रोग क्षमता बढ़ाने में सहायक(Benefits of honey for immunity power in hindi)-

आप लोगों को पता है कि अगर हमारी immunity मजबूत नहीं रहेगी तो हम कई सारे संक्रमक रोग से ग्रसित हो सकते हैं।तो इसके लिए आप लोगों को शहद का प्रयोग करना चाहिए। जिससे हमारी रोग प्रतिरोग क्षमता को बढ़ाता है।शहद में एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा अधिक होती है जो हमारे दिल की बीमारियों के लिए फायदेमंद होते है।और दिल से जुड़ी सभी बीमारियों से बचाता है।

11.शहद के फायदे त्वचा के लिए (Uses of honey for skin in hindi)-

अगर आपकी त्वचा रूखी है और आप उसे नम बनाये रखना चाहते हैं।तो आप शहद का उपयोग कीजिए जब आप अपनी त्वचा पर शहद को लगाएंगे। शहद में ऐसे गुण होते हैं जो आपकी रूखी त्वचा से छुटकारा दिलाएगा और आपकी त्वचा की नमी को बरकारार रखती है यह आपकी त्वचा को नम बनाये रखने के साथ त्वचा में निखार भी लाती है।

शहद का उपयोग कैसे करे-

  • अगर आपको खाँसी आती है तो अदरक और शहद को मिलाकर खाने से लाभ होता है।
  • आपकी त्वचा पर हल्की सी खरोच आई हो या जलन हो रही है तो शहद का को उस पर लगाना चाहिए।जिससे ठीक हो जाती है।
  • वजन कम करने के लिए आपको खाली पेट गुनगुने पानी मे शहद मिलाकर पीना चाहिए।
  • घाव पर शहद में गुलाब जल पिलाकर लगाना चाहिए।
  • गले की खराश से जल्दी आराम पाने के लिए एक चमच्च अदरक के रस को दो चमच्च शहद को मिलाकर खाना चाहिए।
  • अगर आपको कब्ज से आराम पाना है तो रोज रात में गुमगुने दूध में एक चम्मच शहद मिला कर पीना चाहिए।
  •  पहला उपाय -अगर रूखी त्वचा हो तो उसके लिए एक चम्मच शहद ले और फिर उसे त्वचा पर लगाये लगाने के बाद इसे 10-15 मिनट तक इसको ऐसे ही सूखने और फिर इसे ठंडे पानी से धो लो।
  • दूसरा उपाय त्वचा की निखार के लिए-अगर आपको चेहरे की चमक बढ़ानी है तो आप शहद और केला या फिर शहद और दूध और या फिर शहद और नींबू का फेस पैक बनाकर लगाना चाहिए।
  • शहद और एलोवेरा के मिश्रण को बालों में लगाने से बाल बढ़ते हैं।
  • दही और शहद को मिलाकर हेयर मास्क को बना ले और फिर इसे बालों में लगाये इससे जोआपके खराब होते हैं उनको पोषण मिलता है।
  • अगर आपको मुहांसे है तो आप पहले शहद लो और फिर उसे मुहांसों पर लगाओ और रात भर लगा रहने दो फिर सुबह ठंडे पानी से धो लो।

गुनगुने पानी में शहद के क्या फायदे होते हैं

वैसे तो आप लोगों को पता ही है कि गुनगुना पानी पीने से हमें बहुत फायदा होता है लेकिन क्या आपको ये पता है कि इस पानी में शहद मिला ले तो ये ओर भी हमारे लिए फायदेमंद होता है।तो चलिए जानिए अगर गुनगुने पानी में हम honey डालकर पीते हैं तो इससे हमें एनर्जी प्राप्त होती है।और जो गले मे इंफेक्शन जो जाता है उससे भी हमें आराम दिलाता है।शहद और गुनगुना पानी हमारे वजन को भी बराबर मात्रा में बनाए रखता है।और यह त्वचा को भी निखारने का काम करता है।

ठंडे पानी में शहद पीने के फायदे-

जाड़े के मौसम में अक्सर सभी लोगों को सर्दी -जुकाम हो जाता है।तो इसके लिए उन लोगों को ठंडे पानी में शहद मिलाकर पीने से फायदा होता है।और यह गले की खराश और कफ को दूर करने में भी लाभकारी होता है।ठंडे पानी में honey मिलाकर पीने से पेट की चर्बी भी नहीं बढ़ती है इस लिए जिन लोगों की पेट की चर्बी बढ़ती है उन लोगों को रोज इस पानी का सेवन करना चाहिए।

सुबह खाली पेट शहद खाने के फायदे-

- Advertisement -

अगर सभी लोग खाली पेट शहद और लहसुन को मिलाकर उसका सेवन करें तो जो दिल तक जाने वाली धमनियां होती हैं उसमें जो वसा जम जाती है इसके सेवन वह जमी हुई वसा निकल जाती हैं।जिससे ब्लड सर्कुलेशन ठीक तरह से पहुँचता है।और आप जानते हैं कि सिर्फ जुकाम के साथ जो साइनस की बीमारी होती है। उसके लिए भी यह फायदेमंद होता है।यह शरीर की जो गर्मी होती है उसे बढ़ाने में मदद करता है और हमे बीमारियों  से दूर रखता है।

रात को शहद खाने से हमें क्या  फायदे होते हैं-

आप लोगों ने तो जानते ही होंगे कि बहुत से लोग होते हैं जिनको रातों में नींद नहीं आती और उन लोगों को नींद आ आ जाए इसलिए वे लोग बहुत से अलग अलग प्रयास करते रहते हैं तब भी उनको नींद नहीं आती है।हम आपको बता दे कि नींद इसलिए नहीं आती क्योंकि जो।स्लीपिंग हॉर्मोन होते हैं वो बहुत ही कम मात्रा में बनते हैं जिससे उन लोगों को नींद नहीं आती है 

हल्दी और शहद खाने के  फायदे-

क्या आप को पता है कि शहद और हल्दी खाने से हमें क्या फायदे होते हैं।नहीं जानते हो तो हम बताते हैं कि शहद और हल्दी हमारे पाचन सम्बंधी समस्याओं और कटने या घाव में और सर्दी में भी बहुत फायदेमंद होता है।अगर आपको मोच आई हो स्वास्थ्य या त्वचा सम्बन्धी परेशानी हो तो शहद हल्दी का सेवन जरूर करें।

दूध और शहद मिलाकर पीने से क्या फायदे होते हैं-

क्या आप लोगों को पता है कि शहद में दूध मिला कर पीने से हमें क्या क्या फायदे होते हैं। अगर नही पता है तो हम आपको बताते हैं चलिए जानिए –

बहुत से लोग ऐसे होते हैं जिनकी हड्डियाँ कमजोर होने लगती है तो इसकी वजह से वे लोग बीमार रहते हैं ज और न ही काम कर पाते हैं तो इसके लिए उन लोगो को दूध और शहद मिलाकर पीना चाहिए जिससे कि उनकी हड्डियाँ मजबूत होंगी।

अपनी पाचन क्रिया को सही बनाये रखने के लिए भी हमें दूध और शहद के मिश्रण का सेवन करना चाहिए।

अगर जिन व्यक्तियों को नींद नहीं आती है तो यह मिश्रण उन।लोगों के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है।

अदरक और शहद का सेवन कैसे करें –

अगर आप को कोई भी बीमार है तो आप गुनगुने पानी में दो चमच्च अदरक का रस ले और उसमे एक चमच्च honey मिला ले फिर रोज सुबह इसका सेवन करें जिससे कि आपको इसे बहुत फायदा होगा।

शरीर में ऊर्जा पहुंचाने में शहद कैसे फायदेमंद है-

- Advertisement -

क्या आप लोगों को ये भी पता है शहद से हमें ऊर्जा भी प्राप्त होती हैं।जो हमारे शरीर के लिए बहुत ही जरूरी होता है। honey का सेवन करने से हमारे शरीर को कार्बोहाइड्रेट,प्राकृतिक शर्करा फ़्रेक्टोज और ग्लूकोज की मात्रा सही ढंग से मिलती है जिससे वह सीधे खून में पहुंच कर ऊर्जा में बदलता है।और शहद में बहुत ही ज्यादा मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाये जाते हैं जो हमारी मस्तिष्क की कोशिकाओं को नुकसान होने से बचाती हैं। honey जो होता है वो हमारे शरीर की कैल्शियम को सोखने की क्षमता को बढ़ाता है जो यह हमारे दिमाक की कोशिकाओं के लिए बहुत फायदेमंद होता है।

बादाम शहद के क्या फायदे हैं-

आज जानते हो क्या की बादाम और शहद खाने से हमे क्या फायदे होते हैं।अगर नहीं भी जानते तो हम आप लोगों को बताते हैं बादाम और honey खाने के फायदे-

  • अगर किसी भी को गले और फेफड़े की समस्या हो तो यह इसका उपयोग करे जिससे उनको बहुत ही फायदा होगा।
  • और शरीर को सभी पौष्टिक तत्व प्राप्त करवाना है और शक्तिशाली बनाना है तो भी इसका सेवन करना चाहिए।
  • बादाम और honey के सेवन से जो हमारी स्किन होती है उसे भी हल्दी बनाये रखता है।
  • शहद और बादाम हमारे दिमाक और हार्ड के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है।

शहद और किशमिश खाने से क्या फायदे हैं-

अगर हम किसी भी प्रकार से बीमार हो जाते हैं तो हमारे शरीर में कमजोरी होने लगती है। और कमजोरी की वजह से हमारा कोई भी कम करने में मन नहीं लगता है।तो आप अगर अपने शरीर की कमजोरी को दूर करना चाहते हो तो honey और किशमिश का सेवन कीजिए।और इसके सेवन सेपुरुषों को भी शारीरिक कमजोरी का सामना नही करना पड़ता है।शहद और किशमिश में टेस्टोस्टेरोन बूस्टिंग फुड्स के अन्तर्गत आता है।

Dabur honey के खाने के फायदे-

क्या आप लोगों को पता है कि Dabur honey हमारे लिए किस प्रकार उपयोगी है।जो हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता होती है डाबर honey उसको बढ़ाने में सहायता करता है।

डाबर हनी जले हुए या कटे हुए स्थान पर लगाने से भी हमे राहत मिलती है।और यह वजन कम करने में भी लाभकारी होता है।और जिन लोगों के खाँसी आती हो उनके किये भी बहुत फायदेमंद होता है।

आंख में शहद डालने से क्या फायदे होते-

आप लोगों ने तो देखा ही होगा कि अक्सर किसी न किसी व्यक्ति की आँखे दर्द होती रहती हैं या फिर आखों से कम दिखाई देता है दृस्टि दोष हो जाता है।तो उन लोगों को जिनकी आँखे दर्द होती हैं या फिर दृस्टि दोष होता है वे लोग शहद का प्रयोग करें।हर रोज अपनी आँखों मे शहद डाले।जिससे उन लोगों को बहुत फायदा होगा।क्योंकि शहद एंटीऑक्सीडेंट और जिंक दोनों पाये जाते हैं।जो हमारी तंत्रिका तंत्र की कोशिकाओं के लिए बहुत जरूरी होता है। दृस्टि दोष के लिए आप लोग शहद का इस्तेमाल करें।

शहद का क्या काम है-

सबको पता ही है कि बहुत से लोग होते हैं जिनको नींद नही आती है और उनको नींद आ जाये इस लिए वे लोग नींद की दवा भी खाते हैं ताकि वे लोग अच्छी तरह से सो सके और भी बहुत उपाय करते हैं।अगर आपको नींद नही आती है तो उसके लिए आपको शहद का प्रयोग करना चाहिए।जिनको नींद नहीं आती उन लोगों के शरीर मे स्लीपिंग हार्मोन कम बनता है तो ऐसे लोगों के लिए रात में शहद का सेवन करना चाहिए।क्योंकि रात में शहद का सेवन करने से यह हमारे स्लीपिंग हार्मोन को बढ़ाता है और जिसकी वजह से उन लोगों को नींद अच्छी आ सकती है।

कच्चा शहद क्या होता है-

क्या आप लोगों को पता है कि कच्चा honey क्या होता है। अगर नहीं पता तो चलिए हम आप लोगों को बताते हैं कि कच्चा शहद क्या होता है। जो कच्चा शहद होता है वो गले की जलन और खांसी को कम करने में सहायता करता है। कच्चे शहद में जीवाणु रोधी कवक रोधी और फाइटोन्यूट्रिएंट्स पाये जाते हैं।और कच्चा शहद हमारे पाचन तंत्र की सभी क्रियाओं में सहायक होता है।कच्चा शहद एथलेटिक प्रदर्शन को भी बढ़ाता है।और यह हमारा वजन कम करने भी सहायक होता है।

पुराना शहद खाने के फायदे-

अगर शहद कुछ दिनों से रखा भी है तो भी वह हमारे बहुत काम आता है।पुराने शहद से हमारी रोग प्रतिरोग से क्षमता भी बढ़ती है और यह बहुत सी बीमारियों में हमारे लिए उपयोगी होता है।

शहद के नुकसान (Side Effect honey in hindi)-

आप लोंगो को तो पता ही है।कि जिसके फायदे होते हैं तो उसके नुकसान भी होते हैं।आज हम आपको शहद के बारे में जितने फायदे बता चुके हैं तो उसके नुकसान भी होते हैं।  चलिये जानते हैं शहद के नुकसान के बारे में।

एलर्जी – बहुत से लोग होते हैं जिन्हें पराग के कणों से एलर्जी हो जाती हैं तो वे लोग शहद का सेवन न करें।और साथ में भोजन में भी शहद की अधिकता को न बढ़ाये क्योंकि इससे भी एनआफ़िलेक्सिस (Anaphylaxis) जो एक प्रकार का एलर्जिक रिएक्शन होता है।

पेट दर्द में- आपको पता है कि शहद का अधिक सेवन भी नही करना चाहिए। क्योंकि की शहद में फ़्रेक्टोज पाया जाता है।जो हमारी छोटी आंत होती है उसको यह प्रभावित करता है। जिससे हमें पेट दर्द की समस्या उतपन्न हों जाती हैं।

ब्लड शुगर-  शहद का अधिक सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इसमें फ्रक्टोज होने के कारण यह हमारे ब्लड शुगर को अस्थिर कर सकता है। इस लिए इसका सेवन डॉक्टर की सलाह से ही करें।

शहद कितने प्रकार का होता है-

आप लोगों को पता है कि बहुत 8 प्रकार का होता है और सभी शहद का स्वाद और काम अलग अलग होता है।इन शहद को कई किस्मो में रखा गया है-

  1. अकेसिया हनी (Acacia honey)
  2. बकवीट हनी ( Buckwheat honey)
  3. मनुका हनी (Manuka honey)
  4. सॉर बुड हनी(Sourwood honey )
  5. टुपेलो हनी (Tupelo honey)
  6. सेज हनी (Sage honey)
  7. यूकलिप्टस हनी (Eucalyptus honey)
  8. क्लोवर हनी (Clover honey)

आप लोग जानते हैं कि जो पीले रंग की बड़ी मक्खियों के द्वारा बनाया जाता है वह तेल तरह शहद होता है उसे जानते हो क्या कहते हैं माक्षिक शहद कहते हैं। इस शहद उपयोग आँखों के दर्द और पीलिया,बवासीर,क्षय और खाँसी को दूर करने के लिए किया जाता है।

जो छोटी पिंगला मक्खी होती है उनके द्वारा जो शहद बनाया जाता है वह शहद क्षोद्र शहद कहलाता है।यह शहद माक्षिक के समान गुण वाला होता है।यह शहद मधुमेह के रोगी के लिए बहुत फायदेमंद होता है।

आप लोगों ने तो देखा ही होगा कि एक सबसे छोटी मक्खी होती है यह काले रंग की होती जो काटने पर बहुत ही दर्द करने वाली मक्खियों के द्वारा निर्मित घी की तरह होता है।इस घी जैसे शहद को दशक पौतिक शहद कहलाता है।जानते हो यह शहद सूखा और गरम होता है।

इसका उपयोग पित्त,वायुकारक,जलन,रक्तविकार,गांठ

कष्ट का नाशक और मधुमेह नाशक होता है इस लिए इन रोगों में सभी इस शहद का प्रयोग करते हैं।

शहद कितने रुपये किलो मिलता है-

आप लोगों ने ये पता लगाया है कि शहद मिलता कितने रुपये किलो है।नहीं पता है तो अब जान लो।वैसे तो भले ही बाजार में 500 से 1000 रुपए किलो मिलता है।लेकिन क्या आप लोगों को ये पता है कि शहद की कीमत एक लाख रुपये किलोप्रति ग्राम तक होती है।खास तौर पर अगर शहद रॉयल लेजी हो तो आपको एक किलो शहद खरीदने के लिए 25 लाख रुपये देने होंगे। क्योंकि यह रॉयल लेजी शहद मधुमक्खियों की ग्रन्थि से झरने वाला पदार्थ है।

शहद कहा से खरीदे-

वैसे तो आज कल honey सभी जगह पर  आसानी से मिल जाता है। लेकिन इसका आपको सही ढंग से प्रयोग करना है तो इसको आप किसी आयुर्वेद की दुकान या फिर मेडिकल स्टोर से खरीदना चाहिए।क्योंकि इससे आप को शहद की एक्सपेयरी डेट ला पता लग जाता है।

असली शहद की पहचान कैसे करें-

क्या आप लोगों को पता भी है कि शहद में भी मिलावट होती है।और आप इसको कैसे पता करें कि कौन सा शहद असली है और कौन सा नकली तो इसके लिए हम आप लोगों को बताते हैं।इसकी जांच दो प्रकार से होती है इएक पानी से की जाती है और एक आग से। अगर शहद मि जांच पानी से नहीं कर पाते हैं तो आग से कीजिए क्योंकि आग से बहुत आसानी तरीके से हो जाती है।तो चलिए जानते हैं-आप सबसे पहले लकड़ी ले और उस लकड़ी में शहद रुई लपेट कर उस पर शहद लगा लो फिर उसे आग में जलावो अगर वह तुरंत जलने लगे तो शहद अच्छा है और वह देर से जलता है तो समझो उसमें पानी मिला है।इस तरह आप शहद की जांच कर सहते हो।

और एक बात शुद्ध शहद जम जाता है और मिलावटी शहद कभी भी जमता नहीं है वह जैसा होता है वैसा ही रहता है इसलिए इस पर गौर करना।

शहद खराब कब होता है-

आप लोग जानते भी हैं कि honey खराब भी होता है।जो प्राकृतिक रूप से बने छत्तो से प्राप्त किया जाता है जैसे जंगली मौन(एपिस डोरसेटा) या भारतीय मौन(एपिस सिराना)जो प्राकृतिक रूप से पुरानी इमारतों,जंगलो,और चट्टानों आदि में लगे छत्तो से प्राप्त किया जाता है।छत्तो से आप शहद निकालने जाते हैं तो उसे निचोड़कर निकालते हैं जिससे वह हमरे लिए हानिकारक भी हो सकता है और जल्दी खराब हो जाता हैं।

शहद को किस बर्तन में रखे-

क्या आप लोगों को ये पता है कि शहद को की बर्तन में रखना चाहिए। आमतौर पर शहद को किसी प्लास्टिक जार या फिर कांच के बर्तन में रखना चाहिए।शहद को कांच के बर्तन में रखना ज्यादा सही होता है क्योंकि प्लास्टिक में यह तब तक सही रहता जब तक उसे खोल न जाये।

शहद के नाम( Name of honey )-

आज हम आपको बताएंगे कि विभिन्न जगह पर शहद के नाम क्या हैं-

हिंदी -मधु ,शहद

अंग्रेजी- हनी

संस्कृति-भृगवात,क्षोद्र,मकरन्द रस,माक्षिक,मधु ,माधविक 

गुजरात – मधु 

पंजाब – शहत

मराठी – मधु 

बंगाली – मौ,मधु 

तमिल -त्यंन् त्येत्ना

फारसी -अगविन

मलयालम-ओपर मधु,मद्र,लावा

कन्नड- जेनुतुप्

अरबी- असल उल- नहल,इंजुविन

लेटिन- मेल 

शहद को घर में रखने से क्या फायदे हैं-

आप लोगों को पता है क्या की घर में शहद रखने से क्या फायदे होते हैं। ज्योतिषयों के अनुसार अगर आप शहद को घर में रखते हैं तो यह शुभ माना जाता है।क्योंकि शहद को पंच तत्वों में आकाश तत्व का प्रतीक माना गया है।और यह भी कहा जाता है कि शहद के असर से अशुभ ग्रह का प्रभाव नही पड़ता और साथ ही में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है।

एक नजर इधर भी –

दोस्तों हमने आपको शहद से जुड़ी सभी फायदों के बारे में बताने की पूरी कोशिश की है । अगर इस लेख ने आपकी थोड़ी भी सहायता की है तो कृपया करके इसे अपने जानने वालों को जरूर शेयर करें ताकि उन्हें भी शहद से होने वाले अनोखे फायदों के बारे में पता चल सके।

- Advertisement -
Pankaj Yadavhttp://hinditarget.com
नमस्कार दोस्तों  ! मै Pankaj Yadav , HindiTarget.com का Owner | मै एक Web Developer हूँ | मै इस ब्लॉग के माध्यम से नयी नयी जानकारियां लाता रहता हूँ। कृपया आप हमे SUPPORT करे ताकि हम आपसे इसी तरह जुड़े रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

हमसे जुड़े

506FansLike
300FollowersFollow
201FollowersFollow

नये लेख

सम्बन्धित लेख