[20] Full form – आपको जरुर जानने चाहिए |

- Advertisement -

आईएएस का full form क्या होता है? (IAS full form in Hindi)

हम अपने दैनिक जीवन में पता नही कितनी बार IAS का नाम सुनते है और हमे लगभग  यह भी पता है की एक IAS हमारे जीवन में कितनी बड़ी भूमिका निभाता है पर इससे भी ज्यादा कई सारी चीजे है जो हम IAS के बारे में नही जानते है की आखिर में एक IAS होता कोन है? वह करता है ? उसका हमारे दैनिक जीवन में कितना बड़ा भाग है ? और इसी कई सी चीजें|

IAS, का full form Indian Administration Services” होता है |

यह भारत का एक प्रतिष्ठित पद है civil services exam के सबसे पहला आने वाले भागीदारी को IAS के पद पर नियुक्त किया जाता है IAS का भारतीय समाज में बहुत अधिक महत्व है एक IAS अधिकारी किसी जिले में संसद द्वारा बनाये लगे नियमों को लागू करवाता है एक IAS अधिकारी का काम अपने जिले में सारी तरह की समस्याओं को ठीक करना और अपने जिले में सभी तरह के नियमों का पालन करवाना |

एक IAS अधिकारी के पास असीमित power होती है वह अपने जिले का prime minister होता है आप यह भी कह सकते है जहाँ एक IAS  अधिकारी के पास इतनी power होती है उतनी ही ज्यादा जिम्मेदारियां भी होती  है की उसके जिले में किसी तरह की कोई problem न हो |

civil services exam के तहत IAS, IFS, PCS आदि का exam करवाया जाता है हमारे देश में IAS का exam बहुत ही ज्यादा कठिन होता है इसे पास करना और एक IAS की पदवी पाना बहुत ही कठिन काम है चुकी एक IAS अधिकारी किसी जिले के नियमों में बदलाव लाकर उस जिले के अच्छा से अच्छा और बुरा से बुरा बना सकता है इसलिए यह जरूरी है की एक IAS अधिकारी कोई शिक्षित इंसान ही हो इसलिए एक IAS की परीछा को इतना कठिन बनाया जाता है ताकि कोई कुशल इंसान ही एक प्रतिष्ठित पद पर चुना जाए| 

आईपीएस का full form क्या है? (IPS full form in Hindi)

IPS, का full फॉर्म “Indian police service” होता है |

Civil services में आईपीएस second place पर आता है अथार्थ IAS के बाद इसका पद आता है एक आईपीएस अधिकारी कई सारी अच्छे लाभों के साथ अच्छा वेतन भी प्राप्त करते है एक आईपीएस अधिकारी भारत के प्रमुख 3 इंसानों में से एक होता है| एक आईपीएस अधिकारी अपने कार्य छेत्र में संसद के द्वारा स्थापित कानून नियमों को बनाये रखने का काम करता है, अथार्त उसका कार्य कानून व्यवस्था बनाये रखना|

आईपीएस civil services में सबसे प्रतिष्ठित पदों में से एक होता है एक आईपीएस अधिकारी के पास बहुत सारी power होती है किसी तरह के कानून को बनाये रखने के लिए| एक आईपीएस अधिकारी एसपी से लेकर आईजी, डेप्युटी आईजी, डीजीपी तक बनाए जाते हैं या बन सकते है|

एक आईपीएस अधिकारी को अपने कार्य छेत्र में हर तरह के कानून को बनाये रखने के लिए बहुत सी परिस्तिथियों का सामना करना पड़ता है अतः इसलिए एक आईपीएस अधिकारी को fearless और confidence के साथ अपने छेत्र के लिए निर्णय करना होता है | चुकी एक आईपीएस अधिकारी को इतने निर्णय लेने होते है इसके लिए यह बहुत जरूरी है की वह एक बुद्धिमान और धर्यवान की इंसान बने अतः इसलिए ही आईपीएस की परीक्षा भी बहुत अधिक कठिन होती है अतः यह इससे जाहिर है की उसे पास करना वाला इंसान कितना काबिल होगा और उसे अपनी क्षेत्र का कितना ज्ञान होगा|

SSP का full फॉर्म क्या है? (SSP full form in Hindi)

- Advertisement -

SSP जिसका full फॉर्म “senior superintendent of police” होता है जैसे की नाम से ही पता चल रहा है की एक SSP का काम क्या होता होगा या वह क्या होता है SSP एक वरिष्ठ पुलिस अध्यक्ष होता है इसकी नियुक्ति किसी जिले पर तब की जाती है जब वह का कार्य भार अधिक और कठिन हो जाए और वहां की पुलिस प्रशासन कानून को सही से सम्भाल न पा रहा हो|

SSP के लिए कोई निर्धारित परीक्षा नही होती है एक SSP किसी SP के promotion पर बनता है SSP के पद पर कोई DIRECT नियुक्त नही होता है एक SSP, SP से बड़ा अधिकारी होता है|

भारत में SSP किसी पुलिस force का प्रमुख अधिकारी होता है SSP भारतीय समाज का एक बहुत बड़ा और माननिये पद होता है महानगरो में कार्य भर अधिक होने के कारन SSP की नियुक्ति की जाती है |

एक SSP के पास बहुत सारी power होती है जिसका वह use करके किसी जिले या किसी केंद्र प्रशाषित STATE में नियमो को लगता या उनका पालन करवाता है| एक SSP के पास उसके जिले में हो रही सभी तरह की परेसनियो को रोकने के लिए हर तरह की power दी जाती है एक SSP छोटे से छोटे गाव से लेकर बड़े बड़े शहरो तक का अध्यक्ष होता है|

चुकी जैसे हमने बताया की SSP बनने के लिए कोई DIRECT exam नही होता है तो यदि आप SSP बनना चाहते है तो उससे पहले आपको पुलिस के कई और पदों पर नियुक्ति लेनी होगी|

>RIP का फुल फॉर्म क्या है ?

DGP का full फॉर्म क्या है?  (DGP full form in Hindi)

DGP का full form “Director general of police” होता है हम यह भी कह सकते है की DGP पुलिस महानिदेशक होता है|

DGP का भारतीये समाज में बड़े पदों में आने वाले IAS, IFS, PCS आदि जैसे अधिकारियो की तरह ही उच्च पड़ होता है DGP एक थ्री स्टार रैंक वाला अधिकारी होता है एक DGP का पद पुलिस अधिकारियो में सबसे बड़ा होता है अथार्त DGP भारत के राज्यों तथा केंद्र शाशित प्रदेशो में सबसे उचे पड़ पर आने वाला पुलिस अधिकारी होता है पुलिस विभाग में इससे बड़ा कोई और पद नही होता है यह अंतिम और सर्वोच पद है एक DGP कोई IAS अधिकारी ही बन सकता है अथार्त एक DGP बहुत सम्मानित पद होता है जिसके पास बहुत सी power होती है जिसका प्रयोग करकर DGP अपने कार्य क्षेत्र में कानून व्यवस्था बनाये रखता है|

चुकी एक DGP का पद बहुत ही responsibility का होता है इसलिए इस पद पर चयनित इंसान के पास हर तरह का निर्णय लेने का ज्ञान होना चाहिए क्योंकि एक आईपीएस अधिकारी ही DGP के पद पर नियुक्त होता है इससे जाहिर है की उसके पास कितना विवेक होगा|

एक DGP का पद राज्य में कैबिनेट मंत्री के बराबर का होता है| 

>बिहार के शिक्षा मंत्री कौन हैं ?

DIG का full form क्या होता है? (DIG full form in Hindi)

Dig का full फॉर्म “deputy inspector general of police” होता है Hindi में हम इन्हे “पुलिस महानिरीक्षक” कहते है जैसे की नाम से ही जाहिर हो रहा है की यह पद कितना जरूरी और बड़ा होता है किसी पुलिस विभाग में एक DIG officer SSP, DCP की तुलना में एक वरिष्ठ post होती है एक DIG के कंधे पर three star होते है| एक DIG, SP के अंडर में काम करता है |

- Advertisement -

एक DIG किसी राज्य में अपने कार्य क्षेत्र में पुलिस बल में अनुशासन तथा नियमो को बनाये रखने का कम करता है यह पुलिस inspector general की सहायता करते है पुलिस बल को अनुशासित बनाये रखने के लिए|

एक DIG के पास बहुत सी शक्तियां होती है अपने कार्य क्षेत्र में पुलिस व्यवस्था को सही से चलाने के लिए, एक DIG का काम बहुत responsibility भरा होता है क्योकि किसी DIG के कंधो पर ही उस राज्य की शांति निर्भर करती करती है वह जिस प्रकार से अपने कार्य को सम्भालता है वह चीजे ही निर्भर करती है की उसका क्षेत्र कितना कुशल होगा|

किसी राज्य में DIG कितने होंगे इसकी कोई सीमा नहीं निर्धारित है एक राज्य में एक से अधिक DIG को नियुक्त किया जा सकता है|

DIG एक आईपीएस अधिकारी का पद है चुकी एक आईपीएस बनने के लिए आपको civil service की परीक्षा clear करनी होगी जाहिर है यदि आईपीएस अधिकारी DIG के पद पर नियुक्त होता है तो वह कितना कुशल होगा अपने कार्य भार को सही से संभालने और करने के लिए|

DSP का full फॉर्म क्या होता है? (DSP full form in Hindi)

DSP का full फॉर्म “deputy superintendent of police” होता है DSP को हिन्दी में “पुलिस उपाध्यक्ष” कहा जाता है| एक DSP दो तरह से बन सकते हैं एक पुलिस विभाग में inspector का प्रमोशन होने पर दूसरा civil services exam के तहत UPSC या state PCS परीक्षा पास करके DSP बना जा सकता है| तथा इन दोनों परीक्षाओं का पैटर्न लगभग एक जैसा होता है सिर्फ UPSC के exam में राष्ट्रीय स्तर के प्रश्न आते है तथा state PSC की परीक्षा में राज्य स्तर के प्रश्न आते हैं|

एक DSP को अपने कार्य क्षेत्र में किसी प्रकार के अपराध को रोकने और किसी घटना का निरिक्षण करने के लिए बहुत सी ताकत दी जाती है जिसका उपयोग करके DSP अपने कार्य क्षेत्र में संसद के नियमो को बनाये रखता है| कोई शासन व्यवस्था बनाये रखने के लिए आपको कई कठिन फैसले लेने होते हैं और ये फैसले कोई शिक्षित और कुशल व्यक्ति ही ले सकता है अतः इसी वजह से UPSC का exam इतना कठिन बनाया जाता है| एक DSP को कई power के साथ कुछ लाभ मिलते हैं| जैसे की घर, दैनिक जीवन की सुविधाएँ, सरकारी गाड़ी, भत्ते, वेतन आदि|

CO का full फॉर्म क्या होता है? (CO full form in Hindi)

सीओ का full फॉर्म “circle officer” होता है यह अधिकारी हमारे देश में कुछ राज्यों में ही नियुक्त किये जाते है जैसे राजस्थान, उत्तराखंड, बिहार, उत्तर प्रदेश आदि | एक CO का काम independent police sub division पर control बनाये रखना यह उन्हें कानून द्वारा बनाये गये नियमों के हिसाब से नियंत्रण बनाए रखना|

CO के पद पर निर्धारित अधिकारी का पद उच्चा होता है CO के द्वारा दिए गये सभी तरह के instruction को पुलिस बल के द्वारा  फॉलो किया जाता है | एक CO का पद किसी DSP(पुलिस उपाधीक्षक) तथा ACP(सहायक पुलिस आयुक्त) के बराबर का होता है कुछ दुसरे राज्यों में हम इस पद पर नियुक्त अधिकारियो को DSP के नाम से जानते है तथा बड़े state जैसे मुंबई या Delhi आदि जगहों पर इन्हे कमिश्नर के नाम से भी जानते है|

- Advertisement -

 इस पद पर भी नियुक्त होने के दो तरीके है यह तो directly recruitment exam को पास करके यह फिर promotion के द्वारा| एक CO के पास बहुत सी power होती है जिससे वह पुलिस डिपार्टमेंट पर नियंत्रण करता है | CO को हम Hindi में अनुमंडल पदाधिकारी के नाम से भी जानते है|

IG का full फॉर्म क्या होता है? (IG full form in HINDI)

IG का full फॉर्म “inspector general” of पुलिस होता है hindi में हम इन्हे “पुलिस महानिरीक्षक’ भी कहते है किसी भी इस प्रकार की post पर नियुक्त होने के दो ही तरीके होते है या तो promotion या फिर civil services का exam clear करके | यदि आप IG के पद पर नियुक्त होना चाहते है तो उसके लिए कोई भी DIRECT exam नही होता है यह post हमे PROMOTION के द्वारा ही मिलती है |

एक IG बनने  के लिए आपको UPSC(UNION PUBLIC service COMMISSION) या state public service COMMISSION के द्वारा आयोजित exam को पास करना होगा यदि आप UPSC का exam पास करते है तो आप आईपीएस बन सकते है जिससे आपकी POSTING SP के तौर पर होती है तथा  SP के post पर 14 साल के promotion के बाद आप DIG बन सकते है तथा DIG बनने के 3-4 साल के उपरांत आपको IG(IGP) का post मिल सकता है अथार्त इतनी सारी post से promotion पाकर एक IG को नियुक्त किया जाता है यह तो हुआ UPSC का exam पास करके तथा दूसरा तरीका यह है की यदि आप state pcs exam clear करते है तो आपकी पोस्टिंग DSP के तौर पर होती है जहां से 10-15 साल के बाद आप SP बन सकते है और उसके कुछ सालो बाद DIG तथा DIG के promotion के बाद आपको IG का पद मिलता है |

ऊपर लिखे हुए LINES से यह तो पता चल ही गया होगा की एक IG बनाना कितना मुश्किल का काम है एक IG कितनी सारी post से होकर बनता है जाहिर है की एक IG का काम बहुत ही responsibility भरा होगा जिसके लिए कोई अनुभव शील इंसान की जरूरत होती है|

SI का full फॉर्म क्या होता है? (SI full form in Hindi)

SI का full फॉर्म “sub inspector” होता है Hindi में हम इन्हे उप निरीक्षक, head constable, पुलिस चौकी का कमांडर आदि नामो से जाने जाते है| SI की post ASI से ऊपर की तथा inspector से नीचे की होती है|

SI का पद Indian पुलिस service में एक प्रतिष्ठित पद माना जाता है| SI की पुलिस वर्दी के कंधे पर 2 star, तथा कंधो के बाहरी तरफ लाल और नीले रंग की पट्टियां होती है एक SI के पद के लिए लिए आपको किसी भी subject से graduate होना जरूरी होता है सी बनने की age 18-25 वर्ष तक की होती है |

SI के पद पर नियुक्त होने के लिए आपको 3 state से गुजरना होता है पहले step में SI की लिखित exam को निकालना होगा second step में psychical exam निकलना होगा (चुकी एक SI का काम field का होता है इसके लिए यह बहुत जरूरी है की एक SI का शरीर उसकी बुद्धि के सामान ही अच्छा हो) और लास्ट step interview होता है यदि आप यह तीनो step clear कर लेते है तो आप SI के post पर नियुक्त हो सकते है  

SI का काम अपने कार्य क्षेत्र में हुए problem को देखना और उनकी जाँच करना आदि SI का स्थान एक पुलिस से ऊपर का होता है एक inspector पहले सी की ही पदवी पर होता है एक SI को एक post के साथ कई सारी अन्य सुविधाएं भी मिलती है एक SI के पास कई तरह की power होती है और उसे उन power को कानून के नियमों के अंदर रहकर अपना कार्य करना होता है|

SDM का full form क्या होता है? (SDM full form in Hindi)

SDM का full form “sub divisional magistrate” होता है Hindi में हम इन्हे उप प्रभागीय न्यायाधीश, या उप जिला अधिकारी कहते है

जैसे की नाम से जाहिर हो रहा है यह post कितनी बड़ी होती है एक SDM का पद किसी जिले के डीएम के बराबर का ही होता है प्रत्येक जिले में एक SDM की नियुक्ति की जाती है एक SDM अपने जिले के जमीन से जुड़े व्यापार को देखता है और उन्हें शासन व्यवस्था से काम करवाता है जिले के सभी तहसीलदार SDM के under में काम करते है जिले की साडी जमीनों का लेखा जोखा SDM के तहत ही आता है एक SDM जमीन के देखरेख के साथ कई तरह के पंजीकरण भी करवाने का काम करता है जैसे विवाह रजिस्ट्रेशन, लाइसेंस जारी करवाना, राज्य में लोकसभा तथा राज्य सभा में सदस्य को चयनित करवाना आदि प्रकार के अधिकार SDM के तहत की आते है SDM बनने के लिए आपको state की pcs exam को clear करना होता है एक SDM का कार्य बहुत ही जिम्मेदारी का होता है तो यह जाहिर है की एक SDM को अच्छा ख़ासा पढ़ा लिखा और समझदार होना चाहिये|

एक SDM के पास बहुत अधिक power होती है जिसका use करके वह अपने कार्य क्षेत्र में नियमों को बनाए रखता है SDM को कई साडी power के साथ बहुत सारी सुविधाएं भी दी जाती है और इनकी सैलरी भी काफी अच्छी होती है|  

TT/TTE का full form क्या होता है? (TTE full form in Hindi)

एक TT का रेलवे में बहुत मान्यता होती है TT का full form “travelling ticket examiner” कहते है Hindi में हम इन्हे यात्रा “टिकट परीक्षक” के नाम से जानते है TT भारतीय रेलवे में काम करने वाला एक अधिकारी होता है जिसका काम train में यात्रा कर रहे यात्रियों से टिकट लेना होता है एक टिकट आपको किसी train में travel करने का permit देता है टिकट के बगैर train में यात्रा करना एक जुर्म होता है TT इस बात का ध्यान देता है की कोई भी यात्री बिना ticket के train में travel न करे |

एक TT का पद Indian रेलवे traffic service कैडर के अंतर्गत आता है जो भारतीय रेलवे सर्विस के तहत आता है एक TT का काम train से जुड़ी साडी छोटी मोटी समस्याओं को दूर करना होता है उसके पास कुछ बहुत power भी होती है जिनका use करके TT train से जुड़ी problem को ठीक करता है |

एक train में TT का चयन train की यात्रा पर निर्भर करता है यदि यात्रा लम्बी है तो एक ट्रेन में एक से अधिक TT कार्य करते है और व्यवस्था बनाये रखते है|

MLA का full form क्या होता है? (MLA full form in Hindi)

MLA विधान सभा का एक सदस्य होता है MLA का full फॉर्म “Member of Legislative Assembly”

होता है एक MLA अपने क्षेत्र में मतदान के द्वारा राज्य सरकार के विधायक के पद पर चुना जाता है | विधान सभा में सभी MLA चुनाव के द्वारा ही चयनित होते है यह चुनाव प्रत्येक 5 वर्ष में एक बार किया जाता है |

विधान सभा में एक MLA केवल विधायक ही नहीं होता है वह एक CM या कई इसे और पदों पर हो सकता है अतः एक MLA को उसके पद के अनुसार जिम्मेदारी उठानी होती है |

एक MLA बनने के लिए आपके पास कुछ योग्यताये होनी चाहिए जैसे की आपकी age 25 वर्ष से उप्पर हो, आप भारत के नागिरिक हो, आप किसी वोटिंग क्षेत्र में आते हो, आप पागल वह दिवालिया न हो यदि आप एन सभी योग्यताओ में ठीक है तो आप MLA के पद पर खड़े हो सकते है|

एक MLA का काम अपने निर्वाचन क्षेत्र की जनता की सभी प्रकार के समस्याओ को राज्य स्तर पर ले जाना और उन सभी समस्याओं को ठीक करने का प्रयास करना एक MLA जनता से जुड़ा होता है एक MLA के पास कई तरह की power और सुविधाएं होती है|

CM का full form क्या होता है? (CM full form in Hindi)

CM एक ऐसा पद है जिसके बारे में सायद ही ऐसा कोई होगा जो नही जानता होगा है CM का full form “chief minister” होता है एक CM का पद किसी राज्य में सबसे बड़ा पद कह सकते है एक CM को किसी राज्य का एक राजा कहा जा सकता है CM का पद राज्य सरकार को चलाने के लिए होता है किसी राज्य में केवल एक ही CM हो सकता है |

एक CM पुरे राज्य पर control करता है तथा use control बनाये रखने तथा शासन व्यवस्था बनाये रखने के लिए बहुत सारी power भी मिलती है यह पद बहुत सी जिम्मेदारियों से भरा होता है क्योकि एक CM ही एक state को शक्तिशाली बनाता है और सभी शक्तिशाली states मिलकर एक powerful country को बनाते है|

हमरे देश में कोई भी देश का नागरिक CM के पद के लिए खड़ा हो सकता है तथा चुनाव में जनता के द्वारा किसी एक पार्टी के CM को चुना जाता है यह निर्णय पूरी तरह से देश की जनता का होता है जीती हुई पार्टी में से ही विधान सभा के सदस्य किसी एक सदस्य को CM के पद के लिए चुनते है एक CM का कार्य काल 5 वर्ष का होता है चुकी एक CM का पद बहुत ही important होता है  किसी राज्य के लिए तो यह बहुत जरूरी है की हम अपना CM अच्छे से चुने|

 PM का full form क्या होता है? (PM full form in Hindi)

यह शायद ही कोई इंसान होगा जो एक PM के पद से अवगत नहीं होगा यह use ये नही पता होगा की एक PM किसी country में कितना important होता है |

PM का full form “prime minister” होता है जैसे की नाम से ही जाहिर हो रहा है की यह सभी तरह के minister में सबसे ऊंचे पद के होते है |

एक PM का चयन भी एक CM के तरह ही होता है बस फर्क इतना होता है की एक CM का चुनाव किसी state के स्तर पर होता है और एक PM का चुनाव देश के स्तर पर होता है जाहिर होगा की PM का कार्य भी और जिम्मेदारी भी कितनी बड़ी होगी एक PM का कार्य पुरे देश में कानून व्यवस्था बनाये रखने वाले तथा पूरी जनता की मांगो का ध्यान रखना होता है |

चुकी एक देश की सारी जनता के सभी तरह की मांगो तथा देश में होने वाले सभी प्रकार की problem का ध्यान रखना एक इंसान के लिए नामुमकिन सा है इसलिए ही एक PM के साथ बहुत से लोग होते है जो देश की व्यवस्था को बनाए रखने के लिए PM की help करते है|

PM का चुनाव भी लोगों द्वारा ही किया जाता है तथा किसी जीती हुई पार्टी का ही कोई सदस्य PM के पद पर चुना जाता है एक PM के पास असीमित power होती है PM का भी कार्यकाल 5 वर्ष का होता है|  

CMO का full form क्या होता है? (CMO full form in Hindi)

CMO का full form “chief municipal officer” होता है Hindi में हम इन्हे “मुख्य नगरपालिका अधिकारी” कहते है एक CMO नगर पालिका का प्रधान अधिकारी होता है किसी एक नगर के हर तरह के record को ध्यान रखना पत्राचार योजना या कई इसी तरह के दस्तावेज को बनाने का काम CMO के under में आता है एक पुरे देश को चलाने के लिए बहुत से लोगों के सहयोग की जरूरत होती तथा एक CMO भी अपना भी कार्य करता है| किसी नगर पालिका में कोई अधिनियम तथा नियमो को चलाने के लिए CMO के पास कई तरह की power होती है CMO किसी नगर के हर तरह के return, योजना, कोई अनुमान या आंकड़े प्रस्तुत करता है|

HOD का full form क्या होता है? (HOD full form in Hindi)

HOD का full form “head of department” होता है Hindi में “विभाग का प्रमुख” | कॉलेज में पढने वाले हर बच्चे को यह तो पता ही होगा की HOD का क्या पद होता है और वह कितना important होता है एक HOD सिर्फ किसी कॉलेज में ही न होकर किसी भी संस्था का हो सकता है एक HOD किसी संस्था का प्रमुख इंसान होता है |

HOD का काम किसी संस्था में जिस विभाग का वह head है उसमें हर तरह के निर्णय लेना जिससे वह विभाग अच्छे तरह से growth करे | एक HOD के decision उस संस्था को अच्छा कर सकती है| एक HOD का नियुक्ति अधिकतर संस्था में काम कर रहे कुशल तथा experience वाले इंसान को ही बनाया जाता है जिसे हर परिस्थिति में सही decision लेने का ज्ञान हो |

PA का full form क्या होता है? (PA full form in Hindi)

किसी भी बड़े पद पर कोई नियुक्त इंसान को बहुत साडी responsibility उठानी पडती है और सभी तरह की बातो पर ध्यान देना होता है यह उसे अकेले याद रखना थोडा कठिन हो सकता है इसलिए वह PA रखते है |

PA का full form “personal assistance” होता है नाम से जाहिर है की PA का काम अपने बॉस के कामो में उसे assist करना अथार्त उन्हें दिशा दिखाना की उन्हें एक दिन में क्या क्या करना है |

PA बनने के लिए कई university exam भी होते है एक experienced PA अपने बॉस का काम काफी हद तक कम कर देता है एक कुशल संस्था के लिए एक अच्छे PA की भी जरूरत होती है|

VIP का full form क्या होता है ? (VIP full form in Hindi)

हम अपने बचपन से ही सुनते आ रहे यह VIP शब्द अतः “VIP” का full form “very important person” होता है| हम इस शब्द को किसी पद की तरह ले सकते है यह शब्द उन लोगों के लिए लगाया जाता है जो आम लोगो से कुछ ऊचे या important होते है जैसे कोई business person या कोई minister या कोई movie star आदि लोगों को VIP कहते है | यह कोई जरूरी नही है की हम VIP लगाये ही पर इसका use करके हम किसी इंसान को ऊंचा दर्जा देते है |

ये लेख अगर अपने पूरा पढ़ा है तो जाहिर सी बात है आपने काफी कुछ सीखा होगा और आपने ज्ञान के सागर में कुछ अंश ज्ञान का और जोड़ लिया होगा | मेरी हमेशा से सिर्फ यही एक कोसिस रहती है की hinditarget.com के पाठकों को अच्छे से अच्छा ज्ञान उपलब्ध कराया जाये ताकि उनकी सम्पूर्ण तरीके से सहायता हो सके | अगर आपको इस लेख से सम्बन्धित किसी प्रकार की जानकारी के लिए सवाल हैं तो आप जरुर कमेंट करें हम आपकी सहायता जरुर करेंगे |

- Advertisement -
Pooja Yadav
पूजा एक बहुत अच्छी लेखक और तकनीकी के अच्छी जानकर हैं , hinditarget.com पर पूजा दैनिकजीवन की समस्यायों और तकनीकी से सम्बन्धित लेख लिखती हैं, इन्होंने Information Technology से Engineering किया है| ये विभिन्न प्रकार की बेहद काम की जानकारीयाँ शेयर करते रहती हैं !

2 COMMENTS

  1. U are doing excellent job !.😊 it is necessary and important to know about..keep it up🤍

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

हमसे जुड़े

506FansLike
300FollowersFollow
201FollowersFollow

नये लेख

सम्बन्धित लेख